विराट कोहली ने की जडेजा की तारीफ, कहा दौड़ने के मामले में उन्हें मात देना लगभग असंभव

भारतीय टीम ने रविवार को कोलकाता के ईडन गार्डेंस मैदान पर डे-नाइट टेस्ट मैच में बांग्लादेश को मात दी थी। इसके एक दिन बाद यानी सोमवार को विराट कोहली ने इस बात का खुलासा किया है कि भारतीय टीम के एक खिलाड़ी को दौड़ने के मामले में मात देना लगभग असंभव है। ये खिलाड़ी कोई और नहीं, बल्कि ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा हैं, जो मौजूदा समय में काफी फिट हैं।

ट्विटर पर की फोटो शेयर

दरअसल, भारतीय कप्तान विराट कोहली ने एक फोटो अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है, जिसके कैप्शन में उन्होंने इस बात का जिक्र किया है कि उन्हें ग्रुप कंडीशनिंग सेशन पसंद है, लेकिन इसमें जडेजा को मात देना लगभग नामुमकिन है।
विराट कोहली न जो तस्वीर शेयर की है उसमें वे बीच में हैं, जबकि एंगल से देखा जाए तो साफ लग रहा है कि रवींद्र जडेजा उनसे आगे हैं और ऋषभ पंत उनसे पीछे हैं।

फिटनेस के मामले में विराट भी हैं अव्वल

विराट कोहली ने इस तस्वीर के कैप्शन में लिखा कि ग्रुप कंडीशनिंग सेशन मुझे पसंद हैं। और जब आप आपके ग्रुप में जड्डू(रवींद्र जडेजा) हैं तो उसको हराना लगभग असंभव काम हैं। आपको बता दें, बतौर कप्तान विराट कोहली ने अपनी टीम के लिए उदाहरण सेट किए हुए हैं। फिटनेस की बात हो या फिर मैदान पर फुर्ती की विराट कोहली हर मोर्चे पर अव्वल नजर आते हैं। बल्लेबाजी की बात तो निराली है ही।

जिम में पसीना बहाना है पसंद

31 साल के विराट कोहली मानते हैं कि अगर उनके पास समय होता है तो वे जिम में पसीना बहाना पसंद करते हैं। विराट कोहली की राह पर अब युवा क्रिकेटर भी चल निकले हैं, जो दिन रात मेहनत करते है। इसके पीछे कारण ये भी है कि इन दिनों काफी ज्यादा क्रिकेट खेली जा रही है, जिसमें लगातार शामिल होने के लिए आपको अपने आप को फिट रखना होगा। विराट और अन्य खिलाड़ी यही काम कर रहे हैं।

बनी पारी के अंतर से लगातार चार टेस्ट जीतने वाली पहली टीम

कोलकाता में खेले गए गुलाबी गेंद टेस्ट ने भारत के लिए एक और रिकॉर्ड बनाने में भी मदद की, अब टीम इंडिया पारी के अंतर से लगातार चार टेस्ट जीतने वाली पहली टीम बनी। साथ ही बांग्लादेश पर जीत भारत की दूसरी जीत है जिसमें स्पिनरों ने खेल में एक भी विकेट नहीं लिया। आखिरी बार ऐसा 2018 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हुआ था। भारत ने बांग्लादेश के खिलाफ दो मैचों की श्रृंखला 2-0 से जीती और सात मैचों में 360 अंकों के साथ विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप (डब्ल्यूटीसी) के शीर्ष पर अपनी स्थिति और मजबूत कर ली है। यह भारत की लगातार पांचवीं टेस्ट सीरीज जीत और 12वीं घरेलू श्रृंखला जीत थी।

Translate »
क्रान्ति न्यूज लाइव - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल