सिंधिया ने बढ़ाई कमलनाथ सरकार की मुश्किलें , प्रधानमंत्री मोदी से मिलने पहुंचे ज्योतिरादित्य सिंधिया , आज BJP में हो सकते हैं शामिल , मोदी कैबिनेट में बन सकते हैं मंत्री

नयी दिल्ली। मध्य प्रदेश के ताजा राजनीतिक घटनाक्रम के बीच कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया मंगलवार की सुबह प्रधानमंत्री मोदी से मिलने पहुंचे | उनके साथ गृहमंत्री अमित शाह भी हैं | उम्मीद जताई जा रही है कि आज बीजेपी में ज्योदिरादित्य सिंधिया शामिल हो सकते हैं | इतना ही नहीं, कांग्रेस के 20 विधायक इस्तीफे के लिए तैयार हैं | थोड़ी देर में फैक्स से विधानसभा को सूचित करेंगे | बताते चले कि मध्य प्रदेश में सियासी ड्रामा चल रहा है |  यहां मुख्यमंत्री कमलनाथ का संकट बढ़ता हुआ दिख रहा है | सोमवार को करीब 20 मंत्रियों ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है, हालांकि, आठ मंत्री सीएम कमलनाथ की सोमवार शाम को हुई बैठक में नहीं पहुंचे | बता दें कि सिंधिया खेमे के कुछ मंत्री पहले ही बेंगलुरु जा चुके हैं | कुल 17 विधायक बेंगलुरु गए हैं जिससे कमलनाथ सरकार का संकट बढ़ गया है | वहीं कमलनाथ ने कहा है कि माफ़िया की मदद से सरकार गिराने की कोशिश कर रहे हैं हम उनकी कोशिश सफल नहीं होने देंगे |   

उधर गृहमंत्री अमित शाह ने सोमवार की देर रात पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ अपने आवास पर बैठक की | बैठक में केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर भी शामिल रहे | भाजपा से जुड़े सूत्रों का कहना है कि पार्टी ज्योतिरादित्य सिंधिया को राज्यसभा भेजने के लिए तैयार है |  केंद्र में उन्हें मंत्री भी बनाया जा सकता है | कमलनाथ सरकार के गिरने की स्थिति में बनने वाली नई सरकार में सिंधिया खेमे को एक उपमुख्यमंत्री पद भी भाजपा दे सकती है | सूत्रों का यह भी कहना है कि सिंधिया तक बात पहुंचा दी गई है |  

सिंधिया के पाले में आते ही बीजेपी ने सरकार बनाने की तैयारी शुरू कर दी है | आज बीजेपी की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक के साथ बीजेपी संसदीय बोर्ड की बैठक भी बुलाई गई है | इस बैठक में मध्य प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में सरकार बनाने को हरी झंडी दी जाएगी | 

अगर आंकड़ों का गेम देखें तो गेंद भारतीय जनता पार्टी के पाले में जाती दिख रही है | अभी मध्य प्रदेश विधानसभा में 230 सीटें हैं, जिसमें से दो विधायकों के निधन होने की वजह से दो सीटें रिक्त हैं | ऐसे में फिलहाल सदस्यों की कुल संख्या 228 है | ऐसे में बहुमत का आंकड़ा 115 हुआ | अभी कांग्रेस के पास 114, भाजपा के पास 107, सपा के पास 1, बसपा के पास 2 और निर्दलीय चार विधायक हैं | सपा, बसपा और निर्दलीय विधायकों का कांग्रेस को समर्थन है | 

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल