महिला दिवस पर कविता के माध्यम से बेटी बचाओ का दीया संदेश

न्यूज़ रिपोर्टर रमेश प्रजापत अलावड़ा रामगढ़

महिला दिवस पर कविता के माध्यम से बेटी बचाओ का दीया संदेश
अलावड़ा। कस्बे के अरावली पब्लिक सीनियर सेकंडरी विद्यालय में रविवार को क्रिसिल फाउंडेशन में प्रगति प्रोग्राम की ओर से अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम की अध्यक्ष अंगूरी देवी ने नारी की मातृत्व शक्ति के बारे में कविता के माध्यम से जानकारी दी। और कहां बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान पर कन्या भ्रूण हत्या नहीं होने देने व बेटियों को पढ़ाने का संदेश दिया।यह सामाजिक बुराई ही नहीं बल्कि कानूनी अपराध भी है। बेटी से मां-बहन, बुआ, मामी और चाची आदि सभी रिश्ते बनते हैं। उन्होंने कहा कि लड़कियों के बिना समाज की कल्पना नहीं की जा सकती है। उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा बेटियों को उच्च शिक्षा दिलाने के लिए नई-नई योजनाएं लागू की जा रही है। लड़की आज परिवार पर बोझ नहीं है। कलाकारों ने गीत के माध्यम संदेश दिया कि लड़कियों ने आज हर मुकाम हासिल कर लिया है। बेटियों को बचाने के साथ-साथ उन्हें आगे बढ़ने के समान अवसर देने होंगे। लड़कियों की परवरिश भी लड़कों की तरह ही होनी जरूरी है।इस अवसर पर छात्राओं ने महिला सशक्तिकरण के महत्व के बारे में बताया कि नारी का योगदान हर क्षेत्र में सराहनीय रहा है। छात्राओं ने विभिन्न कार्यक्रमों जैसे कविता, भाषण, रागिनी एवं गीतों के द्वारा नारी सशक्तिकरण के बारे में बताया।इस अवसर पर महिला एवं क्रिसिल फाउंडेशन मैं प्रगति प्रोग्राम के कार्यकर्ता विमल चौधरी ,सुरेश,पायल चौधरी,कविता, रेखा जाटव, विद्या देवी ,निर्मला, बबीता के अलावा अनेक महिलाएं व बच्चे मौजूद थे।

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल