राज्य महिला आयोग उत्तर प्रदेश उपाध्यक्ष अंजू चैधरी ने सुनी जनसमस्याएं

KRANTI NEWS BEAURO CHIEF ( ANOOP SINGH VERMA) जिला बाराबंकी।
महिला जनसुनवाई दिवस के अवसर पर महिला उत्पीड़न, दहेज प्रथा, अपहरण, घरेलू हिंसा, बलात्कार आदि से सम्बन्धित घटनाओं के प्रकरणों की जनसुनवाई हेतु राज्य महिला आयोग उत्तर प्रदेश उपाध्यक्ष अंजू चैधरी राजकीय गेस्ट हाउस में 06 पीड़ित महिलाओं की समस्याओं को प्रार्थना पत्र के माध्यम से सुनवाई की। राज्य महिला आयोग उपाध्यक्ष ने कहा कि किसी भी कार्य में गुस्सा करने से जिन्दगी नहीं बनेगी। उन्होंने कहा कि आपसी मतभेद को पहले बातों के माध्यम से सुलझाने का प्रयास करें। मार-पीट से किसी समस्या का समाधान नहीं निकल सकता। जनसुनवाई के दौरान शिकायतकर्ता अंजना देवी पत्नी रविकान्त के प्रार्थना पत्र को सुनकर आपसी समझौते पर सुलह कराकर निर्देश दिया कि यदि पीड़ित पर कोई मानसिक या शारीरिक रूप से पीड़ित करेगा तो उस पर कानूनी कार्रवाई की जायेगी। जनसुनवाई के दौरान उजमा बानो के प्राप्त प्रार्थना पत्र पर निर्देशित करते हुए कहा कि दोनों पक्षों को बुलाकर समस्या का समाधान करें, शिकायतकर्ता अर्चना शर्मा पत्नी राम किशोर के मामले में एसएचओ महिला थाना को निर्देश दिया कि विपक्षीगणो को बुलाकर वार्ता कर समस्या का समाधान करने के निर्देश दिये। जनसुनवाई के दौरान पीड़ित महिला ने उपाध्यक्ष महोदया को अवगत कराया कि चार महीने से दौड़ रहे है पर किसी प्रकार की कहीं से कोई मदद नहीं मिल रही है। उपाध्यक्ष श्रीमती चैधरी द्वारा 181 टीम को निर्देश दिया कि सम्बन्धित प्रकरण की काउसलिंग करें। 181 टीम द्वारा बताया गया कि बजट का अभाव होने के कारण लगभग 06 माह से वाहन डीजल हेतु बजट न होने के कारण वाहन नहीं चल पा रहा है, जिससे काउसलिंग के लिए नहीं पहुॅच पाते है। जनसुनवाई के दौरान सीओ सिटी, डीपीओ, एसीएमओ, एसएचओ महिला थाना, महिला कल्याण अधिकारी, 181 टीम सहित सम्बन्धित विभागीय अधिकारी व पत्रकार बन्धु मौजूद रहे।

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल