हेल्‍दी इंटरटेंमेंट बोले तो फिल्‍म ‘एक साजिश जाल’ : शुभी शर्मा

  • चैनल्‍स ओरिएंटेड फिल्‍म मेकिंग शुभी शर्मा को करती है निराश
  • कंटेंट प्रधान फिल्‍में ही करना चाहती हैं शुभी शर्मा

सुपर स्‍टार खेसारीलाल यादव, शुभी शर्मा और पूजा गांगुली स्‍टारर भोजपुरी फिल्‍म ‘एक साजिश जाल’ इस वीकेंड महाशिवरात्रि के अवसर पर 21 फरवरी को रिलीज होने वाली है.

हमने जब फिल्‍म की लीड हीरोइन शुभी शर्मा से बात की तो उन्‍होंने फिल्‍म ‘एक साजिश जाल’ को हेल्‍दी इंटरटेंमेंट वाली फिल्‍म बताया. कहा कि यह आम फिल्‍मों से हटकर है. इसमें एक्‍शन और इमोशन के साथ दर्शकों के लिए शानदार लव ट्राएंगल भी है.

फिल्‍म निर्माण रेणु विजय फिल्‍म्‍स इंटरटेंमेंट (निशांत उज्‍जवल) और बुल्‍स इंटरटेंमेंट के बैनर तले हुआ है.

किरदार– बार बाला का

शुभी ने बताया कि फिल्‍म में मेरा किरदार बेहद अलग है. पहली बार मैं फिल्‍म में बार गर्ल का किरदार कर रही हूं.

उन्होंने कहा कि फिल्‍म में खेसारीलाल यादव के साथ मेरी केमिस्‍ट्री शानदार रही है. फिल्‍म में मैंने टायटल ट्रैक के साथ तीन गाने किये हैं. तकरीबन डेढ़ साल बाद खेसारीलाल यादव के साथ मेरी ये फिल्‍म आयी है.

फिल्‍म की दूसरी अभिनेत्री पूजा गांगुली हैं, जिनके साथ काम करके मजा आया. उम्‍मीद है मेरा किरदार दर्शकों को पसंद आयेगा और उनका आशीर्वाद हमें मिलेगा.

कंटेंट प्रधान फिल्‍म है प्राथमिकता

शुभी शर्मा ने कहा कि ‘एक साजिश जाल’ की कहानी बेहतरीन है. यही वजह है कि मैं यह फिल्‍म कर रही हूं. वैसे भी फालतू पिक्‍चर करने से कोई फायदा नहीं है. इसलिए मैं कम और अच्छी फिल्‍मों में काम करने में ही विश्‍वास करती हूं.

हमेशा मैंने कंटेंट प्रधान फिल्‍मों को ही प्राथमिकता दी है. फिल्‍मों के चयन को लेकर सतर्क रहती हूं, क्‍योंकि कई बार होता ये है कि कहानी कुछ और सुनाया जाता और सेट पर कोई और कहानी शूट हो रही होती है. मैं इन चीजों से बचती हूं. बड़े निर्माताओं के साथ ये स्थिति नहीं बनती है.

चैनल ओरिएंटेड मेकिंग से निराशा

शुभी शर्मा ने बताया कि पहले भोजपुरी फिल्‍मों की शूटिंग प्रॉपर होती थी. उसमें समय भी लगता था. लेकिन आज के डेट में फिल्‍में चैनल ओरिएंटेड हो गई है क्‍योंकि छोटे निर्माता अब 10 – 15 दिनों में फिल्‍म कंप्‍लीट करने लगे हैं.

उन्होंने कहा कि इससे हम कलाकारों को निराशा होती है. बेशक डिजिटल मार्केट से निर्माताओं को फायदा होता है, मगर उसका बुरा प्रभाव फिल्‍म पर पड़ता है. इसके बावजूद यशी फिल्‍म्‍स, रेणु विजय फिलम्‍स, निरहुआ इंटरटेंमेंट जैसे बड़े निर्माता अभी भी समय लेकर अच्‍छी फिल्‍में बना रहे हैं.

अलबम के लिए भी हो सेंसर बोर्ड

शुभी कहती हैं, ‘भोजपुरी पर हर बार डबल मिनिंग का आरोप अलबम की वजह से लगता है. इसलिए मेरा मानना है कि अलबम के लिए भी सेंसर हो. इसके लिए सरकार को भी पहल करनी होगी, क्‍योंकि तकनीक की सर्वसुलभता के दौर में मोरल ग्राउंड पर इसे रोकना संभव नहीं है, जिसका नुकसान कहीं न कहीं फिल्‍मों को भी उठाना पड़ता है.’

एक साजिश जाल’ को मिले खूब प्‍यार

फिल्‍म की पटकथा के अनुसार, हमारी फिल्‍म की शूटिंग गुजरात और मुंबई में हुई है. फिल्‍म को लेकर तमाम कलाकारों के साथ निर्माता बाबू त्‍यागी और संजय अग्रवाल और निर्देशक एमआई राज को भी खूब उम्‍मीदें हैं. हम भी भोजपुरी की ऑडियंस से अपील करेंगे कि वे हमारी फिल्‍म को जरूर देखें.

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल