धोबी समाज का 17वा सामुहिक बिबाह सम्मेलन सम्म्पन

झांसी से गिरबर सिह की रिपोर्ट :- झांसी =हर बर्ष की भाटि इस बर्ष महाशिवरात्रि के पर्व पर धोबी समाज द्वारा 17 वाँ सामूहिक 50 कन्याओं का विवाह सम्मेलन नरसिंह भगवान मंदिर परिसर में ज्वाला देवी मंदिर लखनऊ के पीठाधीश्वर अशोक महाराज के मुख्य आतिथ्य में आयोजित किया गया। सम्मेलन का शुभारंभ मुख्य अतिथि ने दीप प्रज्वलन कर किया। इस मौके पर मुख्य अतिथि अशोक महाराज ने कहा कि ऐसे सामूहिक विवाह सम्मेलन में अनावश्यक फिजूलखर्ची पर तो रोक लगती है। साथ ही गरीब परिवारों को मदद भी मिल जाती है। उन्होंने कहा कि हर समाज को इस तरह की शादियों को प्रोत्साहित करना चाहिए। साथ ही कन्याओं की शिक्षा पर विशेष ध्यान देना चाहिए। जिससे समाज का नाम रोशन हो सके। उन्होंने वर वधुओं को बधाई देकर उन्हें आशीर्वाद भी दिया। इस मौके पर उपस्थित तमाम सामाजिक संगठनों एवं राजनैतिक दलों के लोगों ने धोबी समाज को अच्छे आयोजन करने के लिए धन्यवाद दिया। कार्यक्रम के आरंभ में सम्मेलन के संयोजक हरनारायण श्रीवास उर्फ हन्नु कक्का एवं अध्यक्ष श्री प्रकाश चौटाला ने कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एवं विशिष्ठ अतिथियों का माल्यार्पण कर स्वागत किया। इस मौके पर 50 जोड़े विवाह बंधन में बंधे। वर वधु के लिए धोबी समाज की ओर से अलमारी, फ्रिज, मिक्सी, पलंग, गद्दा, रजाई, मेंज, बर्तन, कुर्सी, टेबल, कूलर, बिछिया, पायले, नांक की सोने की कील, सोने के मंगलसूत्र सहित अनेक उपहार स्वरूप प्रदान किए। सम्मेलन में आए वर वधु पक्ष के लोगों के लिए रहने खाने पीने की व्यवस्था निशुल्क की गई। इससे पूर्व जयन्ती पैलेस से शुरू हुई 50 दूल्हों की बारात बिलैया चौराहा, डाकखाना चौराहा, परमट चौराहा, बड़ा बाजार, पुलिस चौकी, बजरिया होती हुई श्री नरसिंह भगवान मंदिर प्रांगण में पहुंची। जहां पर पूरी विधि विधान के साथ सामूहिक विवाह संपन्न हुए। बारात में ढोल, नगाड़े, डीजे, घोड़े, कलश लिये महिलाएं व नाचते हुए युवक तथा नरसिंह भगवान का विमान एवं भगवान भोले शंकर के स्वरूप के साथ समाज के लोग चल रहे थे। इस मौके पर कैलाश श्रीवास, किशोरी बाबूजी, छेदीलाल बाबा, डॉ रमेश श्रीवास, प्रमोद सेठ, संतोष श्रीवास पत्रकार, आयुष श्रीवास, राकेश पहलवान, रामपाल प्रधान, हरि शंकर सेठ, राजेंद्र प्रधान, दिलीप, प्रदीप, बैजनाथ श्रीवास, प्रेमपाल श्रीवास, मोहित श्रीवास हजारों की संख्या में समाज के लोग उपस्थित रहे।।

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल