मऊरानीपुर विद्यालय प्रबंधक की तानाशाही के चलते शनिवार के दिन एक छात्रा को परीक्षा देने से वंचित कर दिया ।

झांसी से गिरबर सिह की रिपोर्ट :- झांसी = जानकारी के अनुसार सेंट मेरीज इंटर कालेज मड़ा मंदिर मऊरानीपुर मे नियमित पडने बाली कक्षा सातवीं की छात्रा जब परीक्षा देने बिद्यालय पहुंची तो प्रबंधक के द्वारा उस छात्रा कक्षा के अन्दर पृबेश नही दिया बल्कि उसे विद्यालय के प्रांगण में अकेले बैठा दिया गया जबकि विद्यालय के समस्त छात्र-छात्राएं परीक्षा देने अपने अपने कक्ष मैं पहुंच गए जब इसकी सूचना छात्रा के परिजनों को दी तो कस्वा रानीपुर से छात्रा के पिता उनके साथ आये नगर पंचायत के पार्षद प्रदीप गुप्ता प्रबंधक से मिलने पहुंचे तो वहां प्रिंसिपल ओर प्रबंधक ने छात्रा के पिता ओर पार्षद को ऑफिस से बाहर निकल जाने के लिए कह दिया ।इससे नाराज होकर समाज सेबी पार्षद ने कोतवाली प्रभारी सतपाल सिंह को फोन पर पूरी घटना की जानकारी दी मौके पर पहुचे कोतवाली प्रभारी ने भी छात्रा को परीक्षा दिलाने के लिए कहा लेकिन दबंग प्रबंधक अपनी तानाशाही पर अड़ा रहा ओर छात्रा को परीक्षा मे सामिल नही होने दिया इसको लेकर छात्रा सहित पिता व पार्षद विद्यालय प्रांगण में ही धरने पर बेठ गये इस की सूचना स्थानीय प्रसासन को हुई ओर मोके पर स्थानीय प्रशासन पहुचा तथा प्रबंधक से परीक्षा ना दिलाने। ओर इस तरह की तानाशाही का कारण पूछा तो प्रबंधक कुछ भीनही बोले काफी मशक्कत के बाद व परिवारजनों द्वारा मिन्नत करने पर तानाशाह प्रबंधक ने छात्रा को परीक्षा देने के लिए कहा लेकिन जब तक विद्यालय के सभी छात्र छात्राएं परीक्षा देकर अपने अपने घर जा चुके थे आखिर विद्यालय के प्रबंधक की तानाशाही कब तक बच्चे व अभिभावक झेलते रहेंगे ऐसा नहीं कि इस विद्यालय की शिकायत पहली बार प्रशासन के पास की गई हो कई बार शिकायत के बावजूद भी इन विद्यालयो के प्रबंधकों पर कोई कार्यवाही अमल में नहीं लाई गई बिद्यालय के प्रबंधक की तानाशाही की चर्चा नगर में सुनी जा सकती है ।अब आलम यह है कि स्कूली बच्चों के अभिभाबक डरे व सहमे है ।कोतवाली प्रभारी सतपाल सिंह का कहना है कि ऐसा प्रबन्धक के द्वारा क्यो किया गयाहैं इसकी जाच कर कार्यबाही की जायेगी

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल