सूचना न देने पर आयोग ने E.O की निजी पेशी व “कारण बताओ” के आदेश दिए|

KRANTI NEWS BEAURO (HARYANA) REPORTER :-ANAMIKA VERMA नगरनिगम अम्बाला में म्युटेशन सम्बन्धी मामलों में कानूनी सलाहकार की नियुक्ति सम्बंधित सूचना न देने पर सूचना आयोग ने कार्यवाही करते हुए ” कारण बताओ ” नोटिस देते हुए कार्यकारी अधिकारी व अन्य जिम्मेवार व्यक्तियों को व्यक्तिगत रूप में आगामी तारीख को पेश होने के आदेश जारी किए। इनैलो नेता ओंकार सिंह ने बताया कि उन्होंने 26 फरवरी 2019 को नगरनिगम से कानूनी सलाहकार की नियुक्ति बारे 10 बिंदुओं पर सूचना मांगी थी कि उक्त सलाहकार की नियुक्ति किस नियम या कानून के तहत व किसके आदेश से की गई, नियुक्ति की प्रक्रिया क्या है, नियुक्ति कितने समय लिए है,इस पद की योग्यता-शर्तें-तन्ख्वाह क्या है, क्या यह पद राजनीतिक है, कितने व्यक्तियों ने इस पद के लिए आवेदन किया, मौजूदा पदाधिकारी कोन है इत्यादि। पहले तो इस सूचने का जवाब ही नही दिया गया, प्रथम अपील करने पर 24 अप्रैल को जवाब मिला कि सूचना अधिनियम की धारा 2(f) के तहत सूचना का जवाब नही दिया जा सकता। राज्य सूचना आयोग में आखरी अपील नम्बर 5084/2019 करने पर आयोग ने 22/10/2019 सुनवाई की तारीख निर्धारित की। उक्त तारीख पर भी नगरनिगम की तरफ से किसी के भी पेश न होने पर सूचना कमिश्नर माननीय श्री भूपिंदर कुमार धीरमानी जी ने आदेश जारी किया कि नगरपरिषद 20 नवम्बर तक प्रार्थी को सारी सूचनाएं उपलब्ध कराए, सूचनाए मिलने पर प्रार्थी 30 नवम्बर तक अपनी असुंतष्टि दाखिल करे और अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी करते हुए कहाकि सूचना देरी पर क्यों न उनपर 250 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से जुर्माना लगा दिया जाए और 15/1/2020 को कार्यकारी अधिकारी श्री विनोद नेहरा व अन्य जिम्मेवार पदाधिकारी व्यक्तिगत तोर पर पेश हों। ओंकार सिंह ने कहाकि मुझे विश्वास है कि आयोग के अंतिम निर्णय के पश्चात उन्हें सम्बंधित सूचनाएं मिल जाएंगी ताकि जनता को सच्चाई का पता लग सके।

Translate »
क्रान्ति न्यूज लाइव - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल