कम्पोजिट विधालय बक्सरा आज्ञाराम सोनबरसा में निखर रहीं वैज्ञानिक प्रतिभाएं।

kranti news gonda , (reporter) ram kumar mishra :- मोतीगंज।।गोण्डा।
होनहार विरवन के होत चीकने पात” इस कहावत को कम्पोजिट विद्यालय सोनबरसा बक्सरा आज्ञाराम मनकापुर गोण्डा के बच्चे सही साबित करते हुए दिख रहे हैं।
इस सरकारी स्कूल के बच्चे अपने गुरुजनों के मार्गदर्शन में ऐसे तमाम सारे माडल व प्रोजेक्ट तैयार कर दिए हैं। जिसे बनाने के लिए प्राइवेट स्कूलों के बच्चे प्रयास रत रहते हैं। बच्चे पढ़ाई के साथ साथ विज्ञान, गणित, भूगोल आदि विषयों के क्रियाशील माडल बनाकर अध्ययन करते हुए उदाहरण पेश कर रहे हैं।
विज्ञान के तमाम सारे प्रोजेक्ट बनाना इन बच्चों के लिए एक प्रकार से बाएं हाथ का खेल हो गया है। विज्ञान शिक्षक बलजीत सिंह कनौजिया द्वारा बच्चों को आवश्यक सामग्री व तकनीक उपलब्ध कराई जा रही है। जिसके फलस्वरूप यहाँ के बच्चों ने दमकल, ईवीएम, प्रेसर ट्रक, जेसीबी, क्रेन, एटीएम, रोड लाइट,ग्रास कटर, राकेट, मिसाइल, कूलर, वेट लिफ्टर, मोटर बोट, वाटर लेवल इंडीकेटर, डोर एलार्म के क्रियाशील माडल के साथ ही विभिन्न विषयों के क्विज बाक्स, श्वसन तंत्र, उत्सर्जन तंत्र, परिसंचरण तंत्र आदि के क्रियाशील माडल बना डाले हैं। जिसके अवलोकनार्थ अन्य स्कूलों के बच्चे भी आते रहते हैं। जो बच्चों के लगन की प्रसंशा किये विना नहीं रहते।
स्कूल के बच्चे विजय, विनय, वीरेंद्र, शिवम्, वजरंगी, करन, विकास, विवेक, संदीप, बलराम, मोनू, विकास, रवि, सतीश, शिवकुमार, दुर्गेश, सलोनी, अर्पिता, रोशनी, करिश्मा, कोमल, आंचल आदि द्वारा विभिन्न प्रकार के माडल बना करके उसे अपने अध्ययन से जोड़ रहे हैं। यहाँ तक की बच्चे स्वयं के द्वारा बनाए गये चार्जेबेल इमरजेंसी लाइट से रात में अध्ययन करते हैं।
इन माडलों को बनाने में स्कूल के शिक्षक आलोक भारती, प्रमोद मौर्य, देवेंद्र प्रताप, सुरेश कुमार व शिक्षिका शताब्दी वर्मा, अनुराधा मिश्रा, पूनम यादव, अमर ज्योति शर्मा व चित्रावती मौर्य द्वारा अपना अमूल्य मार्गदर्शन बच्चों को दिया जा रहा है।

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल