बैक्सीनेटर/ पशुमित्र कार्य करने के इच्छुक उम्मीदवार मिलें पशु चिकित्सा अधिकारी से

kranti news shahjahanpur , uma kant srivastava (beauro ):- शाहजहाँपुर : — मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डाॅ0 आर0 बी0 सिंह ने बताया कि जनपद के सम्बन्धित प्रत्येक ग्राम पंचायत के लिए वक्सीनेटर एवं सहायक का चयन किया जाना है। टीकाकरण कार्यकर्ता (वैक्सीनेटर) एवं सहायक की चयन प्रक्रिया इस प्रकार है। न्यूनतम 1000 पशुओं ( गौवंशीय , महिषवंशीय , भेंड़ , बकरी एवं सुअर सहित ) पर एक-एक टीकाकरण कार्यकर्ता वैसीनेटर एवं सहायक का चयन किया जाना है। यदि किसी ग्राम पंचायत में 1000 से कम पशु विद्यमान हों तो उक्त संख्या की प्रतिपूर्ति हेतु निकटस्थ ग्राम सभा / ग्राम सभा के मजरे से अन्तर से संख्या के अनुरूप पशुओं को वैक्सीनेटर / सहायक के लक्ष्य में जोड़ा / उपयोग किया जाए।
पूर्व से विभागीय प्रशिक्षित / क्रियाशील / इच्छुक एवं सक्षम पैरावेटर्स / पशु मित्र को प्राथमिकता के आधार पर चयन / सम्बन्ध किया जाए। जिसके लिए वर्तमान में उपनिदेषक कृषि से समन्वय कर प्रत्येक ब्लाक स्तर पर स्थापित फार्म फील्ड स्कूल से वैक्सीनेटरों / सहायकों के रूप में कार्य करने हेतु प्रेरक किसानों का चयन किया जाए। लीड फार्मर्स ( प्रेरक किसान ) से लिखित सहमति भी प्राप्त की जाए। यदि ग्राम सभा की निर्धारित संख्या के अनुसार पैरावेट / पशु मित्र की कमी हो तो इसके लिए पशु मित्र / लीड फार्मर विहिन प्रत्येक ग्राम पंचायत से ही एक – एक वैक्सीनेटर का चयन किया जाए। जिसकी उम्र 50 वर्ष से अधिक न हो। योग्यता हाईस्कूल हो एवं पशुपालन के कार्यों से भिज्ञ हो। ग्रामसभा की खुली बैठक में वैक्सीनेटर को नामित / चयनित किया जाए। पशुपालन का कार्य करने वाले नवयुवकों को प्राथमिकता दी जाए। जनपद की समस्त ग्राम पंचायतों से एक – एक सहायक का चयन किया जाए। चयन का मापदण्ड एवं योग्यता वैक्सीनेटर की भाॅति होगी। उपरोक्त चयन अन्तर्गत टीकाकरण कार्यकर्ता ( वैक्सीनेटर ) के साथ-साथ सहायक के चयन हेतु विकास खण्ड स्तरीय पशु चिकित्साधिकारी सम्बन्धित पशु चिकित्साधिकारी , सम्बन्धित पशुधन प्रसार अधिकारी , ग्राम विकास अधिकारी एवं प्रधान सम्बन्धित ग्राम पंचायत की समिति गठित की जाए। एन0ए0डी0सी0पी0 योजनान्तर्गत चयनित वैक्सीनेटर व उनके सहायक को प्रति पशु के हिसाब से मानदेय देय होगा।

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल