नगर पंचायत काकोरी में प्रधानमंत्री आवास योजना में हो रहे बड़े घोटाले नगर पंचायत काकोरी मे अपात्रों को दिए गये प्रधानमंत्री आवास


लखनऊ। नगर पंचायत काकोरी में प्रधानमंत्री आवास योजना में बड़े पैमाने पर घोटाले हो रहे है । प्रधानमंत्री आवास (कालोनी) नगर पंचायत काकोरी में अपात्रों को आवास दिए गए है । जिस को लेकर प्रधानमंत्री आवास योजनाओं की निष्पक्ष जांच की मांग हो रही है । इस के बावजूद सरकार ऐसे मामलों को गंभीरता से नहीं ले रहे है । अब देखने वाली बात यह होगी । कि क्या राजधानी में बैठे आलाधिकारी इस मामले को संज्ञान में लेंगे या नही ।
नगर पंचायत काकोरी मेंं पूर्व में हुए सभासदों का वीडियो वायरल हुआ था । गुड्डू गुलाबो व अमित वर्मा का इन दो सभासदों पर आरोप लगाया था । कि बिना घूस लिए ये लोग गरीब जनता यानी लाभार्थियों को कालोनी नहीं देते हैै । काकोरी नगर पंचायत की साठ गाठ के चलते बिना घूस लिए बिना किसी गरीब जनता लाभार्थी को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ इन गरीब लोगों को नही दिया गया । पर आज वही पर फिर से नगर पंचायत काकोरी के काले कारनामों का एक विडियो वायरल हुआ। नगर पंचायत काकोरी का काकोरी कस्बा निवासी अजय का अजय ने बताया। कि 3 माह पहले हमारे सभासद सलमान ने कहा था । कि घर की दीवारों को गिरा दो फिर पैसा आएगा कॉलोनी आएगी प्रधानमंत्री आवास आएगा पर पैसा नहीं । बारिश के मौसम में बताइए घर गिरा पड़ा है। पर कोई सुनवाई नहीं हो रही है ।
काकोरी कस्बा की एक महिला ने आरोप लगाया है। कि हमने सभासद से लेकर चेयरमैन असमी खान से भी कहा पर कोई कार्यवाही नहीं हुई है । और ऐसा लगता है ना हुई और न होगी । बस सिर्फ काकोरी नगर पंचायत के चक्कर ही काट रही हूँ। वहीं सूत्रों की मिली जानकारी के अनुसार फुलवारी मोहल्ला के सभासद सतीश वर्मा पर भी 15 से 20 हजार लाभार्थी से लेते हैं और जिसने पैसा नहीं दिया उसकी कॉलोनी नहीं आ रही । काकोरी नगर पंचायत का यह नजारा सदियों से चलता आ रहा है । पर कोई इसको अधिकारी या कर्मचारी संज्ञान में नहीं ले रहा है । नगर पंचायत काकोरी पूरी तरह से भ्रष्टाचार का कार्यालय बन चुका है। अब देखना यह है कि उत्तर प्रदेश मे माननीय योगी आदित्यनाथ की सरकार के चलते भी इन सभासदों पर कब होगी कार्यवाही । या सिर्फ लीपापोती की जाएगी । और पात्र लाभार्थियों को प्रधानमंत्री आवास नहीं दिया जा रहा है । अपात्र लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना कॉलोनी सभासदों द्वारा मुहैया कराई जा रही हैं । अपनी पहुंच के चलते जुगाड़ से अपनी कॉलोनी पास करा लेते हैं। पर गरीब जनता को कॉलोनी के लिए दर-दर भटकना पड़ रहा है । व नगर पंचायत काकोरी के लगातार चक्कर काटना पड़ रहा है।
Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल