डाकघरों की हालत खस्ता रत्तीभर भी सुधार नहीं,लहजा *पहले से भी बत्तर

kranti news shahjahanpur ,(beauro chief ) ajay kumar singh :-

शाहजहांपुर,ज़िले के डाक घरों की कार्य शैली में रत्तीभर भी सुधार नहीं हो रहा है। डाक घरों हालत पहले से भी बत्तर है।
तिलहर के मोहल्ला मौज़मपुर में स्थित बड़े डाक घर में डाक कर्मचारियों द्वारा आम जनमानस का कार्य ना कर टरका दिया जाता और डाक घर की किसी सीट पर जिम्मेदार कर्मचारी की ड्यूटी नहीं लगायी जाती है।सारा कार्य चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों से लिया जाता है।जिनको उस सीट या कार्य के बारे में जानकारी तक नहीं है।रजिस्ट्री व स्पीड पोस्ट विंडों पर तो हद ही है।रजिस्ट्री के पैसे कोई कर्मचारी लेकर उठ जाता है तो रजिस्ट्री कोई कर्मचारी करता है।जिसमेँ पैसों का भा भी हेर फेर किया जाता है।व सम्बंधित कार्य कराने में घन्टों लगा दिये जाते है। डाक घरों हालत पहले से ही काम में हीला हवाली करने के लिए बदनाम है। अब जब कंप्यूटर वगैरह लग गये तब और भी चिन्ताजनक है। डाक घर पर आम आदमी की कोई बात भी सुनने को तैयार नहीं।इस बावत जब वहाँ मौजूद डाक पाल से पूछा गया तो पहले मानने को तैयार नहीं हुए जब उन्हे खुद दिखाया गया तो कम वेतन का रोना रोने लगे।की इतने वेतन में इतनी बड़ी जिम्मेदारी का कार्य कौन करे।
ज्ञात रहे की भारत सरकार द्वारा डाक घरों की हालत सुधारने का बड़े पैमाने पर कदम उठाया गया और डाक घरों में डाकबैंक खिलिं गयीं। लेकीन साहब नहीं इस कार्य शैली पर तो आम जनमानस कैसे विश्वास करेगी।जनता त्राहि त्राहि कर रही है।

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल