शहीदों तथा दिवंगत समाजसेवियों की स्मृति में भावपूर्ण श्रद्धांजलि-पुष्पांजलि समारोह का आयोजन

शहीदों तथा दिवंगत समाजसेवियों की स्मृति में भावपूर्ण श्रद्धांजलि-पुष्पांजलि
समारोह का आयोजन रानी अहिल्या बाई होलकर पब्लिक स्कूल में हुआ
जय जगत से ओतप्रोत सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले
प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं तथा समाजसेवियों को सम्मानित किया गया
लखनऊ 6 जनवरी। रानी अहिल्या बाई होलकर पब्लिक स्कूल, लौंगाखेड़ा, तेलीबाग द्वारा शहीदों तथा दिवंगत समाजसेवियों की स्मृति में भावपूर्ण श्रद्धांजलि-पुष्पांजलि समारोह का आयोजन अपने विद्यालय प्रांगण में बड़े ही उल्लासपूर्ण ढंग से किया गया। इस अवसर पर जय जगत से ओतप्रोत सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं तथा समाजसेवियों को सम्मानित किया गया। समारोह की अध्यक्षता श्री मनोज कुमार पाल, नेता, समाजवादी पार्टी ने की। बच्चों ने अपनी टीचर्स के मार्गदर्शन तैयार किये गये रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत करके सभी का मनमोह लिया। कु. अंवी पाल ने बच्चों के अधिकार के बारे में बड़े ही आत्मविश्वास के भाषण दिया।
सभी ने शहीदों तथा दिवंगत के चित्रों के समक्ष अपनी भावपूर्ण पुष्पांजलि अर्पित की। विशिष्ट अतिथि के रूप में पधारे बहुमुखी प्रतिभा के धनी प्रसिद्ध केब सिंगर विनोद जी शर्मा ने जय जगत से भरे गीतों को सुनाकर सभी को विश्व प्रेम से भर दिया। उन्होंने अपनी हास्य कला से सभी को हंसी से ओतप्रोत कर दिया।
समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में पधारे श्री सर्वेश पाल, प्रदेश उपाध्यक्ष, राष्ट्रीय किसान मंच ने कहा अब हमें जाति-पाति से ऊपर उठकर सारे विश्व के कल्याण की बात सोचनी चाहिए। उन्होंने कहा कि आज जय किसान -जय जगत के नारे को सारे विश्व में फैलाने की आवश्यकता है। वह उत्तर प्रदेश के करोड़ों किसानों के सहयोग से जय किसान -जय जगत के नारे को बुलन्द करेंगे।

समारोह का संयोजन-संचालन प्रदीप जी, जनरल सैक्रेटरी विश्व परिवर्तन मिशन ने किया। प्रदीप जी ने इस अवसर पर कहा कि युद्ध के विचार मनुष्य में सबसे पहले उसके मस्तिष्क में पैदा होते हैं इसलिए एकता तथा शान्ति के विचार उसके मस्तिष्क में ही रोपने होंगे। शान्ति के विचार मनुष्य को देने की सबसे श्रेष्ठ अवस्था बचपन है। उन्होंने कहा कि हमें दुनिया से युद्धों, आतंकवाद, भूख तथा गरीबी को सदैव के लिए खत्म करने के लिए वैश्विक लोकतांत्रिक व्यवस्था (विश्व संसद) का गठन शीघ्र करना चाहिए। दुनिया को परमाणु बमों से नहीं वरन् प्रभावशाली अन्तर्राष्ट्रीय कानूनों से चलाया जाना चाहिए। दुनिया के सभी वोटरों को एकजुट होकर वोटरशिप, विश्व सरकार, विश्व नागरिकता तथा विश्व न्यायालय का गठन करने के लिए व्यापक जनमत तैयार करना चाहिए।
विद्यालय के प्रबन्धक राम कुमार पाल ने कहा कि शिक्षा सबसे शक्तिशाली हथियार है जिससे दुनिया को बदला जा सकता है। उन्होंने कहा कि बच्चों की शिक्षा के द्वारा मातु अहिल्या बाई होलकर की शिक्षाओं को जन-जन तक पहुंचाने के लिए उनका विद्यालय परिवार संकल्पित है।
समारोह में लक्ष्मी नारायण पाल, एमके पाल, सुरेन्द्र कुमार पाल, ममता तिवारी, नरेन्द्र कुमार तिवारी, आरआरएस पाल, एसपी सिंह पाल, अमरीन खातुन, प्रिया कुमारी, कैसर जहान, दीपिका पाल, सिन्धु सक्सेना, नमिता यादव, सुस्मिता यादव, आदि ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराकर समारोह को सफल बनाया।
श्री मनोज कुमार पाल ने अपने अध्यक्षकीय भाषण में सभी के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा कि कहा कि लोकमाता अहिल्या बाई होलकर अपने समय की एक महान शासिका थी। उन्होंने अपने जीवन के द्वारा ‘सबका भला – अपना भला’ के सिद्धान्त की सीख दी थी।

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल