भागवत पर आपत्तिजनक टिप्पणी से स्वयंसेवक नाराज जालंधर को सौंपा मांग पत्र

जालंधर, (विशाल)- आरएसएस कार्यकर्ताओं ने सोशल मीडिया पर संघचालक मोहन भागवत की आपत्तिजनक तस्वीर लगाकर अभद्र टिप्पणी करने वाले अयूब खान दुग्गल के खिलाफ रोष जाहिर किया। साथ ही इस मामले में पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई ना करने पर कड़ा रोष जताया। कार्यकर्ताओं ने कहा कि लगभग 1 महीना हो चला है और अयूब खान दुग्गल के खिलाफ प्रशासन ने किसी भी प्रकार की कोई भी कार्रवाई नहीं की है। उन्होंने बताया कि पिछले काफी समय से जानबूझकर संघ के अधिकारियों और कार्यकर्ताओं को निशाना बनाकर अभद्र टिप्पणियां कर राज्य के माहौल को खराब करने की कोशिश की जा रही है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ सभी धर्मों का सम्मान करता है और देश के संविधान में पूर्ण आस्था रखता है। हिंदू धर्म और संघ के खिलाफ अभद्र टिप्पणियां करने वालों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कार्यकर्ताओं ने कहा कि वह कई बार पुलिस कमिश्नर से भी इस विषय में बात कर चुके हैं, लेकिन ढुलमुल रवैए के कारण अभी तक आरोपी के खिलाफ किसी भी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं हुई। यदि अब पुलिस प्रशासन ने कार्यकर्ताओं की बात नहीं सुनी तो वह अपनी बाजुओं पर काली पट्टी बांधकर शांतिपूर्वक ढंग से अपना विरोध प्रकट करेंगे। इस विषय पर एक मांग पत्र पंजाब के राज्यपाल के नाम भी लिखा गया है जो कि आज जालंधर के जिलाधीश को सौंपा गया, ताकि पुलिस प्रशासन पर उस व्यक्ति के खिलाफ कड़ी से कड़ी कारवाई करने का दबाव बनाया जा सके। यदि फिर भी आरोपी के खिलाफ पुलिस प्रशासन ने कोई कारवाई नहीं की तो कार्यकर्ता अपना आंदोलन तेज करेंगे

Translate »
क्रान्ति न्यूज लाइव - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल