केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा है कि देश में कोरोना वायरस पर नियंत्रण पाते ही नागरिकता संशोधन क़ानून को लागू करने के लिए क़दम बढ़ाए जाएंगे।

अमित शाह ने पश्चिम बंगाल में एक पत्रकार सम्मेलन में कहा कि कोरोना वैक्सीन लगाने का काम शुरू होते ही संशोधित नागरिकता क़ानून (सीएए) को लागू करने पर विचार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी की वजह से कई काम रुके हुए हैं, जैसे सीएए के नियम बनने अभी बाक़ी हैं। उन्होंने कहा कि वैक्सीन देने का काम शुरू होने और कोरोना की चेन टूटने के बाद इस पर काम किया जाएगा।

अमित शाह ने भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के कारवां पर हमले के संबंध में बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा और कहा कि नड्डा की सुरक्षा के लिए ज़िम्मेदार आईपीएस अधिकारियों को बुलाने का केंद्र के पास अधिकार है। उन्होंने कहा कि तृणमूल कांग्रेस को केंद्र सरकार पर उंगली उठाने से पहले नियमों को देखना चाहिए। शाह ने दावा किया कि ममता बनर्जी और तृणमूल कांग्रेस, सरकार की नाकामियों से लोगों का ध्यान हटाने के लिए “बाहरी-भीतरी” का मुद्दा उठा रही है। (HN)

One thought on “केंद्रीय गृहमंत्री ने कहा है कि देश में कोरोना वायरस पर नियंत्रण पाते ही नागरिकता संशोधन क़ानून को लागू करने के लिए क़दम बढ़ाए जाएंगे।

Comments are closed.

Translate »
क्रान्ति न्यूज लाइव - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल