पुलिस बल की मौजूदगी में नेशनल हाईवे पर बनी दुकानों पर चली जेसीबी, कई दुकानें एवं प्रतिष्ठान ध्वस्त

ऐजाज हुसैन ब्यूरो चीफ उत्तराखंड

लालकुआं। समीपवर्ती हल्दूचौड़ में नेशनल हाईवे चौड़ीकरण के लिए अधिग्रहीत भूमि से कब्जा न हटाए जाने पर पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों की मौजदूगी में अतिक्रमणकारियों की दुकानों एवं प्रतिष्ठानों पर जेसीबी चलाई गई। वहीं दुकानदारों ने विरोध करने की कोशिश पुरजोर की, लेकिन पुलिस प्रशासन के सामने दुकानदारों की एक नहीं चल सकी। अधिकारियों की मौजूदगी में दुकानों और प्रतिष्ठानों को ध्वस्त कर दिया गया। जिससे बामुश्किल आनन फानन में दुकानदारों को अपना सामान निकालना पड़ा।
यहां बताते चलें कि हल्दूचौड़ में नेशनल हाइवे प्राधिकरण मार्ग चौड़ीकरण के लिए अधिग्रहीत भूमि का दुकान व प्रतिष्ठान स्वामियों को पूर्व में ही मुआवजा दे चुका है। मुआवजा देने के बाद हाईवे प्राधिकरण दुकानदारों को दुकान व प्रतिष्ठान खाली करने के लिए दो बार नोटिस जारी कर चुका है। लेकिन दुकानदार हाईवे प्राधिकारण के नोटिस को दरकिनार कर आज तक वहीं जमे हुए थे। जबकि प्राधिकरण द्वारा 15 दिसंबर तक दुकान खाली करने का अंतिम समय दिया गया था, बावजूद दुकानदारों ने अतिक्रमण खाली नहीं किया था, इसी को लेकर आज लालकुआं तहसीलदार नितेश डांगर ने पुलिस बल की मौजूदगी में नेशनल हाईवे पर बनी दुकानों व प्रतिष्ठानों पर जेसीबी चलवा दी। इसी के चलते कई दुकानों के सामान को भी जमींदोज कर दिया गया।
इस दौरान दुकानदारों ने विरोध करने की कोशिश की लेकिन भारी पुलिस बल की मौजूदगी के चलते दुकानदारों की एक ना चल सकी। प्रशासन ने दो दर्जन से ज्यादा दुकानों को आनन-फानन में ध्वस्त करवा दिया जिस पर नेशनल हाईवे कब्जे की तैयारी कर रहा है। इधर मौके पर पहुंचे पूर्व ग्राम प्रधान मुकेश दुम्का ने मौके पर मौजूद अधिकारियों से कुछ समय और दिए जाने की मांग की जिस पर उपजिलाधिकारी ने अतिक्रमणकारियों को दो दिन की मोहलत दे दी है। इस दौरान मौके पर लोगों की भारी भीड़ जमा रही।

One thought on “पुलिस बल की मौजूदगी में नेशनल हाईवे पर बनी दुकानों पर चली जेसीबी, कई दुकानें एवं प्रतिष्ठान ध्वस्त

Comments are closed.

Translate »
क्रान्ति न्यूज लाइव - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल