किसानों के समर्थन में पंजाब रोडवेज बस कांट्रेक्ट वर्कर्स यूनियन ने केंद्र सरकार के खिलाफ दिया धरना

जालंधर,(विशाल) कृषि सुधार कानूनों, बिजली संशोधन बिल 2020, नए श्रम कानून को रद करने की मांग को लेकर पंजाब रोडवेज की संयुक्त एक्शन कमेटी एवं पनबस कांट्रेक्ट यूनियन की तरफ से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व कॉर्पोरेट घरानों का पुतला फूंका गया। शनिवार को पंजाब रोडवेज व पनबस कांट्रेक्ट यूनियन की तरफ से समूचे किसान संगठनों के हक में जालंधर के शहीद ए आजम भगत सिंह इंटरस्टेट बस टर्मिनल को बंद किया गया व केंद्र सरकार के पुतले फूंके गए। इस दौरान रैली भी की गई।इस मौके पर यूनियन नेताओं ने कहा कि मोदी सरकार की तरफ से लागू किए जा रहे कृषि सुधार कानूनों व नए लाए जा रहे बिजली संशोधन बिल 2020 व नए श्रम कानूनों से समूचे देश के किसान व मजदूरों के अलावा समूचे देश के मुलाजिम वर्ग के ऊपर नकारात्मक असर पड़ेंगे। इन काले कानूनों से गरीबी, बेरोजगारी, महंगाई व कालाबाजारी शिखर पर पहुंच जाएगी।उन्होंने कहा कि पहले ही मोदी सरकार की तरफ से नोटबंदी, जीएसटी आदि जैसे गलत फैसले लिए गए हैं, जिनसे लोगों के व्यापार व रोजगार पर बुरा असर पड़ा है। इस मौके पर बलजिंदर सिंह, गुरप्रीत सिंह, जसवंत सिंह, सतपाल सिंह, गुरजीत सिंह, हरीश, परमजीत सिंह, कश्मीर चंद, जर्मनजोत सिंह, गुरदीप सिंह, गुरप्रीत सिंह सुखविंदर सिंह, सतनाम सिंह, बलजीत सिंह, चंदन सिंह समेत अन्य मुलाजिम नेता उपस्थित थे

Translate »
क्रान्ति न्यूज लाइव - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल