सीएम कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने सुल्तानपुर लोधी और डेरा बाबा नानक में विभिन्न विकास प्रोजेक्टों का नींव पत्थर रखा

सुल्तानपुर लोधी/ पवित्र नगरी के विकास को नये शिखरों पर ले जाते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने सोमवार को सुल्तानपुर लोधी में करीब 40.75 करोड़ रुपए की लागत के साथ मुकम्मल किए जाने वाले छह प्रोजेक्टों का नींव पत्थर रखा। यहाँ श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व समागमों की समापन पर रखे समारोहों में शामिल होने के बाद कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने 6.5 करोड़ रुपए की लागत के साथ किला सराए प्रोजैक्ट की संभाल, सरकारी सीनियर सेेकेडरी स्कूल में 1.25 करोड़ रुपए की लागत के साथ ग्रिड टाईड रूफ टॉप सोलर पावर प्लांट, 9.5 करोड़ रुपए की लागत के साथ स्मार्ट स्कूल, 20 करोड़ रुपए की लागत के साथ सिवरेज ट्रीटमेंट प्लांट, 3 करोड़ रुपए की लागत के साथ सब-डिविजऩल प्रशासनिक कंपलैक्स और 45 लाख रुपए की लागत के साथ पाँच स्मार्ट आंगनवाड़ी केन्द्रों की स्थापना जैसे प्रोजेक्टों का नींव पत्थर रखा। 550वें प्रकाश पर्व के मौके पर सुल्तानपुर लोधी में ऐलान किए गए और मुकम्मल किये गए प्रोजेक्टों बारे जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि 10.8 करोड़ रुपए की लागत के साथ पवित्र काली बेईं के सौन्दर्यीकरण का कार्य मुकम्मल किया गया जबकि 319 करोड़ रुपए की लागत के साथ गुरू नानक देव जी सैंटर फॉर इनोवेशन, इनक्यूबेशन एंड ट्रेनिंग स्थापित किया गया है। उन्होंने आगे बताया कि इस समय के दौरान इस क्षेत्र में लड़कियों के लिए बेबे नानकी कॉलेज की स्थापना की गई थी। उन्होंने कहा कि 30.7 करोड़ रुपए की लागत के साथ शहर की छह सड़कों को चौड़ा करने और निर्माण कार्य मुकम्मल करने के साथ-साथ संगत और अन्य यात्रियों की सुविधा के लिए रेलवे स्टेशन के नवीनीकरण का काम पूरा किया गया।  गुरुद्वारा बेर साहिब की तरफ श्रद्धालुओं के आने-जाने को आसान बनाने के एक और कदम के तौर पर पवित्र बेईं पर 9.30 करोड़ रुपए की लागत के साथ तीन उच्च-स्तरीय पुलों का निर्माण किया गया। इसके साथ ही पवित्र बेईं पर दो फुट ओवर ब्रिजों (1.4 करोड़ रुपए) और दो पॉन्टून पुलों (2 करोड़ रुपए) का निर्माण किया गया। इसके अलावा 2.4 करोड़ रुपए की लागत के साथ स्थानीय विश्राम गृह (रैस्ट हाऊस) का निर्माण किया गया है, जबकि 6 करोड़ रुपए बस अड्डे के नवीनीकरण पर ख़र्च किये गए और 11 करोड़ रुपए की लागत के साथ 66 के.वी सब स्टेशन स्थापित किया गया।सुल्तानपुर लोधी में समारोहों में शिरकत करने के उपरांत पहली पातशाही से सम्बन्धित एक और ऐतिहासिक कस्बे डेरा बाबा नानक में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह की तरफ से पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रधान सुनील जाखड़, कैबिनेट मंत्री सुखजिन्दर सिंह रंधावा और संसद मैंबर परनीत कौर की हाजिऱी में श्री गुरु नानक देव जी के चरण स्पर्श वाले 63 गाँव और 14 कस्बों में शुरू किये सभी प्रोजैक्ट (77 करोड़ रुपए) लोगों को समर्पित किये गए। इसके अलावा मुख्यमंत्री की तरफ से विरासती मार्ग (3 करोड़ रुपए), 100 एकड़ में बनने वाली गुरू नानक देव गन्ना अनुसंधान और विकास संस्थान कलानौर और बाबा बंदा सिंह बहादुर अजायब घर और घंटा घर (80 लाख रुपए) का नींव पत्थर भी रखा गया। डेरा बाबा नानक हलके में गन्ना अनुसंधान संस्थान समेत सभी विकास प्रोजेक्टों के लिए मुख्यमंत्री का धन्यवाद करते हुए सहकारिता और जेल मंत्री सुखजिन्दर सिंह रंधावा ने कहा कि यह संस्थान गन्ना उत्पादकों के लिए बहुत लाभप्रद सिद्ध होगा। इसके अलावा विरासती मार्ग धार्मिक पर्यटन को उत्साहित करेगा और क्षेत्र का रूप बदल देगा।

Translate »
क्रान्ति न्यूज लाइव - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल