कार्तिक पूर्णिमा स्नान पर सील हुआ उत्तराखंड का बॉर्डर, पुलिस ने यात्रियों से कहा घर रहकर करें स्नान व पूजा

ऐजाज हुसैन ब्यूरो चीफ उत्तराखंड

हरिद्वार। कार्तिक पूर्णिमा स्नान को कोरोना वायरस जैसी महामारी के चलते स्थगित कर दिया गया है। आज उत्तराखंड के दिल्ली हरिद्वार नारसन बॉर्डर को पूरी तरह से बाहर से आने वाले यात्रियों के लिए सील कर दूसरे प्रदेशों से आने वाले वाहनों को पूर्णतया प्रतिबंधित कर दिया गया है। जिस कारण बाहरी प्रदेशों से आने वाले लोगों को भारी कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है और उन्हें वापस लौटना पड़ रहा है।
यहां बताते चलें कि कार्तिक पूर्णिमा स्नान के अवसर पर लाखों की संख्या में कई राज्यों के लोग उत्तराखंड के हरिद्वार में हर की पौड़ी पर स्नान करने के लिये आते हैं। परन्तु कोरोना की दृष्टिगत इस बार बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों का उत्तराखंड में प्रवेश बंद कर दिया गया है। साथ ही उत्तराखंड के लोगों को भी हर की पौड़ी पर जाने से रोका जा रहा है।
रुड़की एसपी देहात स्वपन किशोर सिंह के अनुसार उत्तर प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान सहित दिल्ली आदि प्रदेशों से भारी संख्या में कार्तिक पूर्णिमा के दिन लोगों का हरिद्वार आना होता है। लेकिन कोरोना के दृष्टिगत इस बार एहतियात के तौर पर उत्तराखंड के बॉर्डर पर ही बाहर से आने वाले लोगों पर रोक लगा दी है। रविवार और सोमवार दो दिनों तक बाहरी प्रदेशों से आने वाले लोग उत्तराखंड में प्रवेश नहीं कर पाएंगे। इसके लिए पुलिस पूरी तरह से चौकसी बरत रही है।

Translate »
क्रान्ति न्यूज लाइव - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल