बाजपुर में शादी में हुए विवाद के आरोपियों को पकड़ने गई पुलिस टीम पर फायरिंग, तीन आरोपी गिरफ्तार

ऐजाज हुसैन ब्यूरो चीफ उत्तराखंड

बाजपुर। शादी के कार्यक्रम में एक व्यक्ति को धमकी देने के मकसद से की गई हवाई फायरिंग करने के आरोपियों को पकड़ने गई पुलिस टीम पर दबंगों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। इस ताबड़तोड़ 13 राउंड फायरिंग से पुलिस टीम सकते में आ गई। हमले में प्रशिक्षु आईपीएस एवं कोतवाल बाजपुर सहित अन्य पुलिसवालों ने बामुश्किल जान बचाई और जवाब में फायरिंग की। फायरिंग करने वाले एक व्यक्ति को उसके दो बेटों सहित गिरफ्तार कर लिया गया है।
मामले का खुलासा करते हुए एएसपी राजेश भट्ट ने बताया कि बुधवार की रात्रि को हल्द्वानी रोड पर स्थित एक मैरिज पैलेस में एक शादी का कार्यक्रम चल रहा था। जिसमें केलाखेड़ा के ग्राम बरवाला निवासी संजीव पाठक और ग्राम मनी मुड़िया के अनिल कुमार शर्मा भी मौजूद थे। इसी बीच किसी पुराने विवाद को लेकर संजीव पाठक और अनिल कुमार शर्मा के बीच कहासुनी हो गई। आरोप है कि अनिल शर्मा ने हवाई फायर कर संजीव पाठक को जान से मारने की धमकी दे डाली। जिस पर संजीव पाठक देर रात कोतवाली पहुंचे और अनिल शर्मा के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई। मुकदमा दर्ज करने के बाद प्रशिक्षु आईपीएस प्रभारी कोतवाल सर्वेश पंवार पुलिस टीम के साथ आरोपी अनिल शर्मा के घर ग्राम मनी मुड़िया में प्रातः लगभग चार बजे दबिश दी। अनिल शर्मा के घर पहुंचने पर पुलिस ने गाड़ी का हूटर बजाया और माइक पर उन्हें घर से बाहर आने को कहा।
काफी देर तक जब कोई बाहर नहीं आया तो पुलिस गेट से अंदर घुसने लगी। तभी अंदर से पुलिस टीम पर ताबड़तोड़ फायरिंग होने लगीं। अनिल शर्मा और उसके दो बेटों ने लाइसेंसी बंदूकों से 13 राउंड फायर किये। अंदर से गालियां चलने से पुलिस टीम में हड़कंप मच गया। जवाब में पुलिस टीम ने भी तीन राउंड हवाई फायरिंग की। जैसे ही प्रशिक्षु आईपीएस सर्वेश पंवार तथा पुलिस टीम पर हमले की सूचना फ्लैश हुई आनन-फानन में आसपास के थानों और चौकियों की पुलिस फोर्स घटना स्थल पहुंच गई और घेराबंदी कर आरोपी अनिल शर्मा तथा उसके उसके दो बेटों विशाल शर्मा और तुषार शर्मा को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के पास से 32 बोर की लाइसेंसी रिवाल्वर, 12 बोर की एक डबल बैरल बंदूक, 32 बोर के सात जिंदा कारतूस, 12 बोर के छह जिंदा कारतूस बरामद किये गये। पुलिस ने घर से दो कारें और एक ट्रैक्टर भी कब्जे में ले लिया है। आरोपियों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया।
एएसपी राजेश भट्ट ने बताया कि पुलिस टीम फायरिंग के आरोपियों को गिरफ्तार करने गई थी। पुलिस द्वारा आरोपियों को आत्मसमर्पण के लिए कहा गया लेकिन उन्होंने आत्मसमर्पण ना कर पुलिस टीम पर फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस ने अपने बचाव में तीन राउंड फायर किए। जिसके बाद आरोपी घर के पिछले दरवाजे से बाहर भागने लगे तो पुलिस ने पीछा कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

One thought on “बाजपुर में शादी में हुए विवाद के आरोपियों को पकड़ने गई पुलिस टीम पर फायरिंग, तीन आरोपी गिरफ्तार

Comments are closed.

Translate »
क्रान्ति न्यूज लाइव - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल