उत्तराखंड : नये डीजीपी अशोक कुमार 30 नवंबर को संभालेंगे कार्यभार

ऐजाज हुसैन ब्यूरो चीफ उत्तराखंड

देहरादून। उत्तराखंड के नये डीजीपी बने अशोक कुमार आगामी 30 नवम्बर 2020 को पुलिस महानिदेशक पद की शपथ लेंगे।
आईपीएस अशोक कुमार का जन्म और पालन-पोषण हरियाणा के जिला पानीपत के एक छोटे से गांव कुराना में हुआ था। उन्होंने अपनी प्राथमिक शिक्षा गांव के सरकारी स्कूल से प्राप्त की और आईआईटी दिल्ली से बीटेक-1986 और एमटेक-1988 में किया।
श्री कुमार वर्ष-1989 में भारतीय पुलिस सेवा में शामिल हुए। उन्होंने इलाहाबाद, अलीगढ़, चमोली, मथुरा, शाहजहांपुर, मैनपुरी, रामपुर, नैनीताल व हरिद्वार जैसे स्थानों में उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में अपनी सेवाएं देते हुए कई चुनौतीपूर्ण कार्य किये। उत्तराखंड बनने से पूर्व वह यहां चार जनपदों में सेवा दे चुके हैं। उन्होंने कुमाऊं के तराई क्षेत्र से आतंकवाद को खत्म करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। 22 जनवरी 1994 को ऊधमसिंह नगर में हीरा सिंह गैंग के साथ हुए एक बड़े एंकाउंटर को उन्होंने खुद लीड किया। इस एंकाउंटर में 3000 राउण्ड फायरिंग हुई थी।
वर्ष 1994 में पुलिस अधीक्षक चमोली के पद नियुक्त रहे। इस दौरान जनता के साथ परस्पर संवाद एवं सहयोग से वहां उत्तराखंड आन्दोलन के दौरान पूरी तरह शान्ति रही। वर्ष 1995-96 में वह वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक हरिद्वार और वर्ष-1999 में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नैनीताल के पद पर सेवारत रहे।
वर्ष 2013 में केदारनाथ में आयी आपदा के समय वह बीएसएफ में आईजी प्रशासन के पद पर नियुक्त थे, इस दौरान उन्होंने कालीमठ घाटी में राहत एवं पुनर्वास कार्य कराये थे और 14 गांव गोद लिए थे तथा कालीमठ मन्दिर को भी बहने से बचाया था।
आईपीएस अशोक कुमार “खाकी में इंसान” विषय पर जोर देते हैं। उनका मानना है कि पुलिस व्यवस्था बेहतर होने से गरीब व असहाय लोगों की जिन्दगी में सचमुच फर्क लाया जा सकता है।

One thought on “उत्तराखंड : नये डीजीपी अशोक कुमार 30 नवंबर को संभालेंगे कार्यभार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल