किसानों का बकाया भुगतान एक सप्ताह में, भ्रष्टाचार होगा समाप्त : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत

ऐजाज हुसैन ब्यूरो चीफ उत्तराखंड

रूद्रपुर। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि प्रदेश सरकार एक हफ्ते के अंदर किसानों का सभी बकाया भुगतान करेगी। उन्होंने कहा किसानों के हितों के साथ कोई खिलवाड़ नहीं होने दिया जायेगा। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत आज रूद्रपुर शहर के गांधी पार्क में सहकारिता विभाग की ओर से आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि सम्बोधित कर रहे थे। इस दौरान मुख्यमंत्री ने किसानों को दीनदयाल उपाध्याय सहकारिता किसान कल्याण योजना के अंतर्गत तीन लाख रूपये तक बिना ब्याज ऋण योजना का शुभारम्भ करते हुए कई लाभार्थियों को चेक वितरित करके किया। साथ ही मुख्यमंत्री श्री रावत ने इसके साथ ही रामपुर रोड पर आदित्य नाथ झा राजकीय इंटर कालेज की भूमि पर बनने वाले ट्रांसपोर्ट नगर, अनाज मण्डी, हाईटैक बस स्टेशन, राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय के वाणिज्य संकाय भवन और नगर निगम द्वारा अमृत योजना के अंतर्गत पेयजल योजना का शिलान्यास भी किया। इस अवसर पर उपस्थित जन समूह को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने आज शुरू की गयी ऋण योजना का लाभ प्रदेश के हजारों किसानों को मिलेगा। इससे किसान खुशहाल होगा।
मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा कि आज कोरोना काल में परिस्थितियां बदल चुकी हैं। कोरोना की वजह से अर्थव्यवस्था बुरी तरह गड़बड़ा गई है। ऐसे में किसानों ने जो काम करके दिखाया है वह सराहनीय है। किसानों की वजह से हमारी उत्पादकता बढ़ी है और उत्पादन भी बढ़ा है। किसानों की वजह से ही हमारे छोटे से राज्य को कृषि कर्मण पुरस्कार मिला है। यह सब किसानों की मेहनत का परिणाम है। मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा कि हमने न सिर्फ किसानों के लिए ऋण योजनाएं शुरू की बल्कि रिकार्ड टाईम में किसानों का भुगतान भी किया है। सीएम ने कहा कि उत्तराखंड देश का एकमात्र ऐसा राज्य है जिसने गन्ना मूल्य का सौ प्रतिशत भुगतान किया है। ढाई सौ करोड़ रूपये का भुगतान पेराई सत्र से पहले किया जा चुका है। हम चाहते हैं कि किसान के एक एक पैसे का भुगातन समय पर हो। फसल समय पर होती है तो भुगतान भी समय पर होना चाहिए। आज हमने यह करके दिखाया है। प्रदेश में 242 धान क्रय केंद्र हमने खोले हैं। केन्द्र सरकार ने 10 लाख मिट्रिक टन धान खरीद का लक्ष्य दिया था जो पूरा कर लिया गया है। फसल का समय पर भुगतान के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। एक हफ्ते में किसानों का पूरा भुगतान कर दिया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा कि धान खरीद में किसानों के भोले भालेपन का कुछ लोग गलत फायदा उठा रहे हैं। उन्होंने धान खरीद में किसानों को आ रही दिक्कतों को दूर करने के लिए अधिकारियों से कार्रवाई करने को कहा। उन्होंने कहा कि किसानों के हितों से खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। सरकार ने जनपद में हजारों काश्तकारों को भूमिधरी का अधिकार दिया है। अभी 45630 काश्तकारों को और भूमिधरी अधिकार देना है। स्वामित्व योजना के अंतर्गत पहले दो जनपद लिये गये थे अब 13 जनपदों को लिया गया हैं। उधमसिंह नगर 534 गांवों को 57165 लोग अभी तक लाभान्वित हो चुके हैं। 6619 काश्तकारों को स्वामित्व पत्र वितरित किये जा चुके हैं। इसके अलावा किसानों को 80 प्रतिशत सब्सिडी पर कृषि उपकरण देने की योजना चलाई गयी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार गंरीबों के हितों पर भी विशेष ध्यान दे रही है। उन्होंने कहा कि वन विकास निगम अध्यक्ष सुरेश परिहार के प्रयासों से गरीब बीपीएल श्रेणी के लोगों को साढ़े चार कुंटल लकड़ी निःशुल्क दी जा रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार स्वास्थ्य, शिक्षा, खेती, पेयजल के क्षेत्र में विपरीत परिस्थितियों में भी बेहतर काम कर रही है। सरकार हर घर को शुद्ध पेयजल देना चाहती है। प्रधानमंत्री के वायदे के बाद 1 रूपये में कनेक्शन देने का काम भाजपा सरकार कर रही है। शहरी क्षेत्रें में केवल 100 रूपये में कनेक्शन दिया जा रहा है। सबको पानी देना हमारी जिम्मेवारी है। हर घर में नल हो यह हमारा प्रयास। है। इसके साथ ही पानी की मात्र बढ़ाना और शुद्ध पेयजल देना भी सरकार की प्राथमिकता है। यह काम थ्री फेज में होगा। 2022 तक हर घर को पेयजल कनेक्शन दिया जायेगा। सरकार दायित्व के प्रति पूरी संवेदना पूरी प्रतिबद्धता ओर समयबद्धता के साथ काम कर रही है।
मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा हम भ्रष्टाचार के घोर विरेाधी हैं, जीरो टॉलरेंस पर सरकार चलाने का वायदा किया था। इसकी शुरूआत हमने उधमसिंह नगर से ही की थी। यहां पर करोड़ों के घोटाले को उजागर करने के साथ साथ दोषियों पर भी कार्रवाई हुई। मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा कि उनके रहते हुए भ्रष्टाचार को नहीं पनपने दिया जायेगा। उन्होनें कहा कि भ्रष्टाचार दीमक की तरह है दीमक जिस तरह से अंदर अंदर से खोखला करती है उसकी तरह भ्रष्टाचार भी खोखला करता है। भ्रष्टाचार रूपी दीमक को समाप्त करने के लिए पहले दिन से ही हम काम कर रहे हैं यह आगे भी जारी रहेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने पंतनगर एयरपोर्ट को अंतराष्ट्रीय एयरपोर्ट बनाने का निर्णय लिया है। इसकी खासियत यह है कि यह ग्रीन एयरपोर्ट होगा। इस एयरपोर्ट के बनने के बाद उधमसिंह नगर दुनिया से जुड़ जाएगा इससे जनपद का तेजी से विकास होगा और रोजजगार के नये अवसर सुलभ होंगे। पूरी दुनिया से लोग उत्तराखंड में आना चाहते हैं। ऐसे में पंतनगर एयरपोर्ट को अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट बनाने से पूरे राज्य को इसका लाभ मिलेगा। मुख्यमंत्री श्री रावत ने आगे कहा कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में तीन मेडिकल कालेज के लिए हमने पैसा दे दिया है निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है। उत्तराखंड पहला राज्य है जहां प्रत्येक व्यक्ति को पांच लाख का स्वास्थ्य लाभ मुफ्त देने का निर्णय लिया गया है। इसमें देश के 22 हजार से अधिक अस्पताल सूचीबद्ध हैं। उत्तराखंड का कोई भी व्यक्ति गोल्डन कार्ड से इन अस्पतालों में 5 लाख तक का अपना ईलाज करा सकता है। सरकार ने पूरे अखिल भारतीय स्तर पर इसको अनुमति प्रदान की हैं। इसके अलावा सरकारी अस्पतालों में बेहतर सुविधाएं दी जा रही है। सभी जिलों में आईसीयू बनाये गये हैं।
इससे पूर्व कार्यक्रम को सहकारिता मंत्री धन सिंह रावत, सांसद अजय भट्ट, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत के अलावा अन्य वक्ताओं ने भी सम्बोधित किया।
कार्यक्रम में शिक्षा मंत्री अरविंद पाण्डे, विधायक राजजकुमार ठुकराल, विधायक राजेश शुक्ला, पुष्कर धामी, विधायक नवीन दुम्का, विधायक हरभजन सिंह चीमा, भाजपा जिलाध्यक्ष शिव अरोरा, रूद्रपुर मेयर रामपाल सिंह, वन निगम चेयरमैन सुरेश परिहार, उधमसिंह नगर जिला पंचायत अध्यक्ष रेनू गंगवार, अनिल चौहान, उत्तम दत्ता, भारत भूषण चुघ, रविन्द्र बजाज, हयात सिंह के अलावा कमिश्नर अरविंद हयांकी, डीएम वंदना राजगुरू, आईजी अजय रौतेला, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिलीप सिंह कुंवर सहित तमाम लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल