मुख्य सचिव ने कोविड की दूसरी लहर से निपटने के लिए प्रशासनिक सचिवों को जिलों का दौरा करने के निर्देश दिए

चंडीगढ़ राज्य में कोरोनावायरस के बढ़ रहे मामलों के मुकाबले के लिए मुख्य सचिव श्रीमती विनी महाजन द्वारा यहाँ प्रशासनिक सचिवों को सम्बन्धित जिलों का दौरा करने और कोविड-19 के लिए किए गए प्रबंधों का जायज़ा लेने का निर्देश दिया, जिससे इस महामारी की संभावित दूसरी लहर से पहले मरीज़ों और उनके संपर्कों की पहचान के अलावा कोविड टेस्टिंग के ढांचे और अस्पतालों में तीसरे स्तर की स्वास्थ्य सेवाओं को और मज़बूत किया जा सके। मुख्य सचिव ने कहा कि सभी सम्बन्धित अधिकारियों को पहले ही निर्देश जारी किए जा चुके हैं कि हरेक कोविड मरीज़ के कम से कम 15 संपर्कों की पहचान को यकीनी बनाया जाए और उनकी कोविड-19 के दिशा-निर्देशों के मुताबिक जांच की जाए। स्वास्थ्य और अन्य सभी सम्बन्धित विभागों को इस महामारी की संभावित दूसरी लहर से निपटने के लिए तैयार रहने का निर्देश देते हुए श्रीमती विनी महाजन ने कहा कि राज्य के लोगों की भी यह जि़म्मेदारी बनती है कि वह सख्ती से सुरक्षा नियमों की पालना करें। उन्होंने लोगों से अपील की कि जब तक कोविड की वैक्सीन नहीं आ जाती तब तक मिशन फ़तेह के मंत्र ‘मास्क ही वैक्सीन हैÓ को अपनाएं। डीजीपी श्री. दिनकर गुप्ता ने कहा कि पुलिस कोरोनावायरस के खि़लाफ़ लड़ाई में भविष्य में भी अग्रणी भूमिका निभाती रहेगी। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के प्रमुख सचिव श्री हुसन लाल और चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान विभाग के प्रमुख सचिव श्री डी.के. तिवाड़ी ने कोरोनावायरस की संभावित दूसरी लहर के मुकाबले के लिए पूरी तैयारी होने का भरोसा दिया।इसके बाद मुख्य सचिव ने कोविड के नए मामलों में वृद्धि का जायज़ा लेने के लिए डिप्टी कमिश्नरों, पुलिस कमिश्नरों, एस.एस.पीज़ और म्यूंसीपल कमिश्नरों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के द्वारा मीटिंग की।

One thought on “मुख्य सचिव ने कोविड की दूसरी लहर से निपटने के लिए प्रशासनिक सचिवों को जिलों का दौरा करने के निर्देश दिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल