उपनिरीक्षक ने लावारिस बच्चों को पहुंचाया चाईल्ड लाईन

कोतवाली थाने के शास्त्री चौक के पास का मामला

गोरखपुर । दीपावली की भीड़ भाड़ में जहां लोग खरीदारी करने और बाजारों में घूमने फिरने में व्यस्त हैं तो वहीं पुलिस अपनी ड्यूटी पर मुस्तैद नज़र आ रही है।
मामला कोतवाली थाना क्षेत्र के शास्त्री चौक का है । जहां दो बच्चे अपने परिवार से बिछड़ जाने के बाद बेसहारा इधर-उधर घूम रहे थे। इसकी सूचना वहाँ तैनात पीआरबी 316 द्वारा कोतवाली थाने के बाल कल्याण अधिकारी उपनिरीक्षक मोहम्मद दानिश आजम को दी गई।
सूचना पाकर मौके पर पहुंचे उपनिरीक्षक दानिश आजम ने 6 वर्ष के सोनू और 3 वर्ष की जसमीन को जल्द ही परिवार तक पहुंचाने का दिलासा देते हुए पहले उन्हें टॉफी व बिस्कुट दिलाया और फिर उनके परिवार और वह कहां से आये हैं ये मालूम करने की कोशिश की लेकिन जब बच्चे कुछ भी बता नही पाए तो उन्होंने उनका कोविड टेस्ट कराते हुए उन्हें चाइल्ड लाईन के सुपुर्द कर दिया । स्थानीय स्तर पर पुलिस की इस त्वरित कार्यवाही की खूब प्रशंसा हो रही है।

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल