उत्तराखण्ड में महिला व दलित उत्पीड़न के खिलाफ कांग्रेसियों का धरना

ऐजाज हुसैन ब्यूरो उत्तराखण्ड

देहरादून। उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने भाजपा सरकार पर हल्ला बोलते हुए कि केंद्र और प्रदेश सरकार की दमनकारी नीतियां आम आदमी के शोषण का कारण हैं। उन्होंने केंद्र व राज्य सरकारों पर दलितों की अनदेखी का आरोप लगाया। गुरूवार को महिला व दलित उत्पीड़न के विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के गांधी पार्क में धरना- प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि भाजपा राज में कानून व्यवस्था पूरी तरह से चौपट हो चुकी है। आये दिन महिलाऐं और नाबालिग बच्चे भी शिकार हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि देश में महंगाई और बेरोजगारी के साथ अब किसानों के समक्ष रोजी रोटी का भी संकट पैदा हो गया है। कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि प्रदेश में समाज कल्याण विभाग की छात्रवृति समय पर न मिलने के कारण छात्रों को शिक्षण संस्थानों व विद्यालयों से निकाला जा रहा है। जिससे छात्रों का भविष्य भी अंधकारमय है। उन्होंने कहा कि समाज कल्याण विभाग से जारी की जाने वाली वृद्धावस्था पेंशन, विधवा पेंशन, विकलांग पेंशन आदि दी जाने वाली पेंशन पात्र को समय पर न मिलने कि शिकायतें आए दिन प्राप्त हो रहीं हैं, इसकी तत्काल समीक्षा करते हुए इसमें शीघ्र सुधार की आवश्यकता है। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि विगत काफी समय से अनेक काॅलेज छात्रवृत्ति घोटालें में लिप्त पाए गये हैं, उनकी मान्यता निरस्त की जाए। उन्होंने कहा कि भाट, सिख जाति जो इस राज्य में अन्य पिछड़ा वर्ग के अंतर्गत आती है अन्य राज्य कि भांति उत्तराखंड राज्य में भी इन्हें अनुसूचित जाति वर्ग में सम्मलित किया जाए।
इस अवसर पर महानगर अध्यक्ष लालचंद शर्मा, अमीचंद सोनकर, अजय बेलवाल व डाॅ. प्रतिभा सिंह समेत काफी संख्या में कांग्रेसी कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल