4400 बेटियों के सपनों को लगे पंख

दिव्य प्रकाश तिवारी चमन’ जिला जुर्म संवादाता

बलरामपुर। कन्या सुमंगला योजना से जिले की 4372 बेटियों के सपनों को ऊंची उड़ान के पंख लगे हैं। बेटियों को आगे की पढ़ाई जारी रखने के लिए 68 लाख रुपये सरकार की तरफ से दिए गए हैं। जन्म से लेकर उच्च कक्षाओं की पढ़ाई में बेटियों को अब आसानी होगी। दो वित्तीय वर्ष में जिले की 9853 बेटियों ने कन्या सुमंगला योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन किया है। जिला स्वीकृति एवं अनुश्रवण समिति की तरफ से सत्यापन होने के बाद बेटियों को धनराशि निर्गत की गई है।
गौरतलब हो कि वित्तीय वर्ष 2019-20 में सीएम योगी आदित्यनाथ ने एक अप्रैल 2019 को मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के तहत बेटियों को जन्म से लेकर स्नातक व डिप्लोमा स्तर तक की पढ़ाई करने के लिए सरकार की तरफ से 15 हजार रुपये की आर्थिक मदद दी जा रही है। तब से लेकर अब तक जिले में कुल 9853 बेटियों ने योजना का लाभ पाने के लिए आवेदन किया।
जिला स्वीकृति एवं अनुश्रवण समिति की तरफ से सत्यापन के बाद वित्तीय वर्ष 2019-20 में ग्रामीण क्षेत्र की 4029 बेटियों को 63,6100 रुपये और नगर क्षेत्र की 77 बेटियों को 1,4700 हजार रुपये की धनराशि आर्थिक मदद के लिए दी गई। वित्तीय वर्ष 2020-21 में समिति के सत्यापन के बाद 266 बेटियों को 3,30,000 रुपये की आर्थिक मदद मिली। जिला स्वीकृति एवं अनुश्रवण समिति को चालू वित्तीय वर्ष के 295 बेटियों के आवेदन स्वीकृति के लिए भेजे गए हैं और 1600 बेटियों के आवेदन का सत्यापन हो रहा है।
छह श्रेणियों में बेटियों को मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के तहत आर्थिक सहायता दिए जाने का प्रावधान है। प्रथम श्रेणी में बेटियों के जन्म पर दो-दो हजार रुपये, द्वितीय श्रेणी में एक वर्ष तक पूर्ण टीकाकरण पर हजार रुपये, तीसरी श्रेणी में कक्षा एक में प्रवेश व चौथे श्रेणी में कक्षा छह में प्रवेश पर दो-दो हजार रुपये, पांचवी श्रेणी में कक्षा 9 में प्रवेश के बाद तीन-तीन हजार रुपये और छठी श्रेणी में स्नातक अथवा दो वर्षीय अवधि के डिप्लोमा कोर्स में प्रवेश लेने पर पांच-पांच हजार रुपये दिए गए हैं।
ऐसे करें ऑनलाइन आवेदन
मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना का लाभ लेने के लिए बेटियों के अभिभावकों को श्रेणी एक में एक अप्रैल 2020 को या उसके बाद जन्मी बेटी का जन्म प्रमाण पत्र, श्रेणी दो में एक अप्रैल 2019 या उसके बाद टीकाकरण प्रमाण पत्र, श्रेणी 3, 4 व 5 में बेटी का स्कूल/कॉलेज के प्राचार्य व प्रधानाचार्य की तरफ से निर्गत प्रमाण पत्र और श्रेणी छह में एडमीशन रसीद व कॉलेज की तरफ से जारी पहचान पत्र के साथ इंटरमीडिएट का अंकपत्र/प्रमाण पत्र ऑनलाइन आवेदन में देना होगा। बेटी व अभिभावक के साथ फोटो, आधार कार्ड, शपथ पत्र, बैंक खाता संख्या व मोबाइल नंबर भी आवेदन में भरा जाएगा।

  • सतीश चंद्र, जिला प्रोबेशन अधिकारी
    समय पर सत्यापन करने का निर्देश
    मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के आवेदन पत्रों को समय पर सत्यापन करने का निर्देश सभी अधिकारियों को दिया गया है। सत्यापन में लापरवाही पाए जाने पर संबंधित के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।
  • कृष्णा करुणेश, डीएम
Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल