पोलियो-रोधक बूंदें पिलाने के लिए विशेष माईग्रेटरी पल्स पोलियो मुहिम एक से तीन नवंबर तक

जालंधर, (विशाल ) जिले में पांच साल तक के 40163 बच्चों को पोलियो-रोधक बूंदें पिलाने के लिए विशेष माईग्रेटरी पल्स पोलियो मुहिम एक से तीन नवंबर तक चलाई जा रही है, जिसके अंतर्गत 420 टीमें जिनमें 355 घर-घर जाने वाली टीमें, छह ट्रांसजिट टीमें और 59 मोबाइल टीमें शामिल हैं, की तरफ से 78,067 घरों को कवर किया जाएगा।सिविल सर्जन डा. गुरिंदर कौर चावला ने बताया कि पूरे अभियान की निगरानी के लिए 97 सुपरवाइजरी टीमों का गठन किया गया है। उन्होंने बताया कि मोबाईल टीमों की तरफ से बच्चों को सेमी-अरबन इलाकों,स्लम क्षेत्रों, बड़ी और छोटी फ़ैक्टरियों और ट्रांसजिट टीमों की तरफ से बस अड्डों और रेलवे स्टेशनों पर बच्चों को पोलियो रोधक बूंदें पिलाई जाएंगी। उन्होनें बताया कि इन तीन दिनों के अभियान दौरान पोलियो टीमें से तरफ से बस अड्डों, रेलवे स्टेशनों और बाज़ारों के इलावा ईंटों के भट्टों और निर्माणाधीन इमारतों और अन्य स्थानों पर बच्चों को पोलियो बूंदें पिलाईं जाएंगी।सिविल सर्जन ने कहा कि स्लम क्षेत्रों और माईग्रेटरी जनसंख्या को विशेषतौर पर कवर किया जायेगा। उन्होनें लोगों से अपील की कि बच्चों को पोलियो बूंदें पिलाने वाली टीमों को पूर्ण सहयोग दिया जाये, जिससे अभियान को सफलता से पूरा किया जा सके। उन्होनें बताया कि स्वास्थ्य विभाग की तरफ से ज़िले में माईग्रेटरी पल्स पोलियो अभियान को सफल बनाने के लिए हर संभव प्रयत्न किये जा रहे हैं। इस अवसर पर उनकी तरफ से जिले में माईग्रेटरी पल्स पोलियो अभियान की जागरूकता के लिए रिक्शा जागरूकता रैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल