त्योहारों के सीजन मे शहर के बाजारों में नही हो रहा शारीरिक दूरी के नियमों का पालन

जालंधर (विशाल) – जालंधर में पिछले कुछ दिनों में कोरोना के नए मरीजों की संख्या घटी है लेकिन वायरस का खतरा अभी टला नहीं है। स्वास्थ्य विशेषज्ञ दूसरी लहर की आशंका व्यक्त कर रहे हैं। बावजूद इसके जालंधर में लोग फेस्टिवल सीजन में लोग लापरवाही बरत रहे हैं। मां के नवरात्रों के बाद अब त्योहारों का सीजन शुरू हो गया है। भारी संख्या में लोग बाजारों में खरीदारी करने उमड़ रहे हैं। शहर के बाजारों में भारी भीड़ के कारण कोरोना से जुड़े शारीरिक दूरी के सभी नियमों की धज्जियां उड़ रही हैं। अगर ऐसा ही चलता रहा तो कोविड-19 जैसी बीमारी से निजात पाना बेहद मुश्किल हो जाएगा l  त्योहारों के मद्देनजर शहर के रैनक बाजार, भार्गव कैंप, सब्जी मंडी, अटारी बाजार में खरीदारी के लिए ग्राहकों की भारी भीड़ नजर आ रही है। बाजारों में पैर रखने की जगह नहीं मिल रही है। ऐसे में शारीरिक दूरी के नियम की धज्जियां उड़ रही हैं। हालात ऐसे हैं कि लोग सीधे-सीधे कोरोना महामारी को दावत सी दे रहे हैं। स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि लोगों को अब भी पूरी सावधानी बरतनी चाहिए। उन्हें चेहरे पर मास्क लगाने और शारीरिक दूरी बनाए रखने का खास ख्याल रखना चाहिए।

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल