राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद ने निकाला कैंडलमार्च।

kranti news lucknow , ( beauro chief ) sanjay azad :-राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के आह्वाहन पर आज लखनऊ में सैकड़ों कर्मचारियों ने शहीद स्मारक से गांधी प्रतिमा तक कैंडल मार्च निकालकर विरोध प्रदर्शन किया।
राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के अध्यक्ष जे एन तिवारी ने एक प्रेस विज्ञप्ति में बताया है कि कर्मचारियों की मांगो पर सरकार के नकारात्मक रवैए से कर्मचारी नाराज हैं। आउटोर्सिंग,संविदा कर्मियों का नियमितीकरण ,पुरानी पेंशन व्यवस्था की बहाली, मानदेय पर कार्यरत कर्मचारियों का समायोजन, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की भर्ती पर लगी रोक हटाया जाना, न्यूनतम वेतन २१०००/ किया जाना, वेतन विसंगति एवं भत्तों पर शासनादेश जारी कराया जाना,रिक्त पदों को भरा जाना, पदोन्नतियां किया जाना, कर्मचारियों का उत्पीड़न रोका जाना, काटे गए भत्तों को वापस दिया जाना सहित संयुक्त परिषद की २६ सूत्रीय मांगों पर कार्यवाही नहीं होने से कर्मचारी नाराज हैं। उन्होंने बताया कि संयुक्त परिषद् ने २० दिसंबर को लखनऊ में धरना प्रदर्शन की नोटिस दिया है, कार्यक्रम को ऐतिहासिक बनाने के लिए पूरे प्रदेश में ३१ अक्टूबर से जनजागरण कार्यक्रम चल रहा है, उसी क्रम में आज लखनऊ में कैंडल मार्च निकालकर जागरण किया गया है।
आज के कैंडल मार्च कार्यक्रम में लखनऊ विश्वविद्यालय, चिकित्सा विश्व विद्यालय, परिवहन निगम, माध्यमिक शिक्षा, परिवार कल्याण, डॉ राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान , उच्च शिक्षा ,प्राथमिक शिक्षा, अनुसूचित प्राथमिक विद्यालय, राजस्व विभाग, मलेरिया फाइलेरिया, चकबंदी सहित दर्जनों विभागों के सैकड़ों कर्मचारियों ने हिस्सा लिया। आज के कैंडल मार्च मे राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के अध्यक्ष जे एन तिवारी , वरिष्ठ उपाध्यक्ष जसवंत सिंह, सयोजक सुरेश मिश्रा, उपाध्यक्ष ओम प्रकाश पांडे ,महेंद्र पांडे , आर सी खरे, अजय लक्ष्मी, कोषाध्यक्ष आर के उपाध्याय,मुकेश सिंह आर के यादव, टी डी राव सहित दर्जनों कर्मचारी नेता उपस्थित थे।

Translate »
क्रान्ति न्यूज लाइव - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल