निकिता हत्याकांड: अपहरण का मामला भी खुलेगा और होगी जांच लव जिहाद और जबरन धर्म परिवर्तन के एंगल की

हरियाणा सरकार नीकिता हत्याकांड की जांच लव जिहाद व जबरन धर्म परिवर्तन दृष्टिकोण से कराएगी। गृहमंत्री अनिल विज ने इस संबंध में विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव को बुधवार को निर्देश दिए। विज ने कहा कि मामले में हत्याकांड से लेकर जबरन धर्म परिवर्तन, लव जिहाद एवं अन्य सभी पहलुओं की गहन जांच एसआईटी से कराई जाएगी।

परिवार ने इससे पहले भी वर्ष 2018 में अपहरण की एफआईआर दर्ज करवाकर बाद में उसे रद्द करवा दिया था, उस बारे में भी जांच के निर्देश दिए गए हैं। विज ने गृह सचिव को कहा कि यह भी गहनता से जांच की जाए कि परिवार ने किसी के दबाव में तो केस वापस नहीं लिया है। यदि ऐसा है तो उन लोगों का पता लगाया जाए, जिन्होंने ऐसा दबाव बनाया था।
परिवार की तरफ से 2018 में दर्ज करवाए गए अपहरण मामले में यदि कुछ भी तथ्य सामने आए तो मामले को दोबारा खोला जाएगा। उन्होंने कहा कि मुख्य आरोपी हरियाणा के कांग्रेस परिवार से संबंधित है, इस पहलु पर भी समुचित जांच करने के लिए कहा गया है।
विज ने कहा कि फरीदाबाद का निकिता हत्याकांड जघन्य अपराध है, जिसकी वह कड़े शब्दों में निंदा करते हैं। सरकार किसी को भी दबंगई व गुंडागर्दी नहीं करने देगी। दुख की इस घड़ी में सरकार पीड़ित परिवार के साथ है।, उन्हें पूरी सुरक्षा प्रदान की जाएगी।
 
इस मामले में सख्त एवं जल्द सजा दिलवाने का उदाहरण प्रस्तुत किया जाएगा। इस प्रकरण में गठित एसआईटी को त्वरित कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। निकिता की हत्या में लव-जिहाद या जबरन धर्म परिवर्तन में किसी संगठन के हाथ होने की आशंका की भी जांच की होगी।

कांग्रेस पर विज का कटाक्ष
कांग्रेसियों की बयानबाजी पर कटाक्ष करते हुए अनिल विज ने कहा कि कांग्रेस गिरगिट की तरह रंग बदलते हुए गोलियां स्वयं चलवाती है और त्यागपत्र सरकार से मांगती है। उन्होंने कहा कि लोगों को कांग्रेस के बहरुपिएपन को समझना चाहिए, जोकि एक तरफ गोली, दूसरी तरफ बोली बोलते हैं।

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल