किसान क्रेडिट कार्ड के बकाया होने पर बेँक द्वारा दिए नोटिस से आहत होकर एक किसान कीओर जान गयी

kranti news jhansi , girvar singh (beauro chief ) :- लगातार कई बर्षो से बुंदेलखंड के झांसी के किसान मौसम की मार झेलते आ रहे है कभी अति बृष्टि तो कभी सूखा या खराब मौसम के चलते किसान की कई बर्षो से फसल नष्ट हो रही है किसानो ने फसल उगाने के लिये बेन्को से के, सी, सी, ओर फसली कर्ज लिया गया है जिसे समय पर जमा नही कर पाने से किसान कर्ज। से दबे होने के कारण पहले से ही परेशान है इसी बीच स्टेट बैंक ऑफ इंडिया बड़ागांव की शाखा के बेँक मेनेजर द्वारा 65बर्षीय बीरा निबासी सुटरे पुत्र कमल अहिरबार को तीन लाख 8 हजार 171 रुपए का नोटिस भेजकर शीघ्र धन राशि जमा करने के लिये नोटिस दिया नोटिस मे समय पर धन राशि जमा न करने पर कार्यबाही किये जाने की चेतावनी भी दी गयी थी नोटिस मिलने से मृतक उदास रहने लगा ओर उसे अपनी खिलाफ कार्यबाही का भय सताने लगा नोटिस के कारण किसान को बीती रात घबराहट हुई ओर रात्रि में 65 वर्षीय सूटरे पुत्र कमल अहिरवार की मौत हो गई जिसकी
सूचना मिलते ही किसान नेता अखिलेश लिटोरिया व राजाराम राजपूत मौके पर पहुचे ओर घटना की सूचना प्रसासन को दी गयी खबर मिलते ही उप जिलाधिकारी व पुलिस क्षेत्राधिकारी मृतक के घर पहुंचे
और पीड़ित परिवार को हर सम्म्भव मदद का भरोसा दिया ग्रामीणो ने बेँक मेनेजर पर आरोप लगाते हुये बताया की किसी भी बेँक द्वारा नोटिश नही दिया गया केबल बडागाँव साखा के मेनेजर द्वारा जानबूझकर नोटिस देकर प्रताड़ित किया गया हैं बडागाँव साखा बेँक मेनेजर द्वारा खाता धारको ,किसानो के साथ उचित ब्योहार नही किया जाता हैं ग्रामीणो ने बेँक मेनेजर के खिलाफ कार्यबाही की मांग की
ज्ञात हो की कई किसानों ने कर्जा से तंग आकर पूर्व मे भी फांसी लगाकर अपनी जीवन लीलासमाप्त कर ली

Translate »
क्रान्ति न्यूज लाइव - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल