भ्रष्टाचार के खिलाफ विजीलेंस ब्यूरो की तरफ से जागरूकता सप्ताह की शुरूआत, वेबीनार के जरिए एसएसपी ने किया जागरूक

जालंधर पंजाब सरकार की तरफ से भ्रष्टाचार विरुद्ध चलाई गई मुहिम के संदर्भ में विजीलेंस ब्यूरो पंजाब की तरफ से तारीख मंगलवार को विजीलेंस जागरूकता सप्ताह की शुरूआत की गई जोकि दो नवंबर 2020 तक चलेगा। जानकारी देते हुए जालंधर रेंज के एसएसपी विजिलेंस दलजिंदर सिंह ढिल्लों ने बताया कि मंगलवार को पुलिस लाइंस में आयोजित जागरूकता कार्यक्रम में विजीलेंस ब्यूरो, जालंधर के कर्मचारी और विजीलेंस ब्यूरो यूनिट, जालंधर के डीएसपी दलबीर सिंह और उनके कार्यक्षेत्र में तैनात कर्मचारियों ने भाग लिया। इस दौरान वहां मौजूद सभी अधिकारियों व मुलाजिमों को अपना काम मेहनत, लगन व ईमानदारी से करने की कस्म दिलाई गई।इसके अलावा सेंट्रल को-आपरेटिव बैंक, होशियारपुर के सहयोग के साथ वेबीनार के जरिए एक जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें बैंक के जीएम राजीव शर्मा, उप-रजिस्ट्रार उमेश कुमार वर्मा अपने अंतर्गत आने वाले स्टाफ के साथ शामिल हुए। विजीलेंस ब्यूरो जालंधर रेंज के एसएसपी दलविंदर सिंह ढिल्लों ने इस दौरान विजीलेंस ब्यूरो की कार्यशैली के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी, साथ ही वेबीनार में भ्रष्टाचार बढ़ने के कारणों पर भी चर्चा की गई। उन्होंने बताया कि आम तौर पर सरकारी दफ्तरों के बाहर प्राइवेट एजेंट संगठित होकर आम जनता को अपना निशाना बनाते हैं, जिसके साथ संबंधित महकमों की साख को भी धक्का लगता है।उन्होंने बताया कि भ्रष्टाचार निरोधक कानून के मुताबिक सरकारी मुलाजिम भी इस गलत काम की वजह से कानूनी कार्रवाई के पात्र बन जाते हैं। इस दौरान बैंकों के जरिए होने वाले फ्रॉड को लेकर भी विस्तार से चर्चा की गई। वेबीनार में सभी मुलाजिमों व अधिकारियों को अपील की गई कि वे अपने बच्चों, दोस्तों, रिश्तेदारों को विजीलेंस जागरूकता कार्यक्रम के बारे में बताएं और सभी लोग मिलकर भ्रष्टाचार के खिलाफ एकजुट होकर आवाज बुलंद करें। ताकि एक भ्रष्टाचार मुक्त समाज का सृजन किया जा सके।उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि सरकारी दफ्तरों में अपना काम करवाने के लिए संयम रखें और काम जल्दी करवाने के चक्कर में किसी मुलाजिम व अधिकारी को पैसे की पेशकश करके भ्रष्टाचार को उत्साहित न करें। एसएसपी विजीलेंस ने कहा कि अगर किसी भी विभाग का कोई अधिकारी या मुलाजिम उनसे कोई काम करने के बदले रिश्वत की मांग करता है तो वह इसकी शिकायत करें। किसी भी विभाग का कोई अधिकारी या कर्मचारी उनसे कोई काम करने के बदले रिश्वत की मांग करता है, तो वह विजीलेंस ब्यूरो के टोल फ्री नंबर 1800-1800-1000 पर संपर्क कर सकता है। इस दौरान बैंक अधिकारियों व मुलाजिमों की तरफ से कुछ सवाल भी पूछे गए, जिनका एसएसपी विजीलेंस ब्यूरो जालंधर रेंज दिलजिंदर सिंह ढिल्लों ने मौके पर ही जवाब दिया।

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल