ऐडीसी विशेष सारंगल ने बहुउद्देश्यीय कौशल विकास केंद्रों का किया औचक निरीक्षण

जालंधर विशाल ) अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर (विकास) विशेष सारंगल ने जिले के अलग-अलग बहुउद्देश्यीय कौशल विकास केंद्रों का अचानक दौरा करके जहां विद्यार्थियों और स्टाफ सदस्यों से बातचीत की, वहीं इन केंद्रों में करवाई जा रही अलग-अलग गतिविधियों का जायजा लिया। वह अलग-अलग पाठ्यक्रमों की कक्षाओं में गए और सेंटरों में कौशल विकास पाठ्यक्रमों के अंतर्गत मुहैया करवाई जा रही प्रशिक्षण का निरीक्षण किया। अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर ने बताया कि यह कौशल विकास सेंटर नौजवानों को विभिन्न क्षेत्रों में शिक्षित करने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं जिससे यह नौजवान आत्मनिर्भर होकर अपना जीवन निर्वाह कर सकें। उन्होंने कहा कि आज के मुकाबले भरे युग में कौशल विकास समय की ज़रूरत है क्योंकि बहुत से रोजग़ार के मौके हुनर पर अधारित होते हैं।उन्होंने विद्यार्थियों के शख्सीयत विकास के लिए सॉफ्ट स्किल प्रशिक्षण पर भी ज़ोर दिया। अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर ने नौजवानों को न्योता दिया कि अपने हुनर विकास पाठ्यक्रमों के साथ साफ्ट स्किल पाठ्यक्रम ज़रूर अपनाए जिससे वह रोजग़ार प्राप्ति के लिए मार्केट की ज़रूरतों को समझते हुए अलग-अलग रोजग़ार के मौकों के लिए बढिय़ा प्रदर्शन कर सकें। उन्होंने बहुउद्देश्यीय कौशल विकास केन्द्रों के प्रबंधन को निर्देश दिए कि सॉफ्ट स्किल प्रशिक्षण को विद्यार्थियों के जीवन का हिस्सा बनाएं। इस उपरांत अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर ने विद्यार्थियों से बातचीत करके सेंटरों की कारगुजारी को और बेहतर बनाने के लिए फीडबैक लिया और प्रबंधकों को निर्देश दिये कि अचानक चैकिंग दौरान जो कमी सामने आईं हैं उनको जल्द से जल्द दूर किया जाए। अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर ने नौजवानों को न्योता दिया कि जिला रोजग़ार और जनरेशन ब्यूरो द्वारा घर-घर रोजग़ार स्कीम के अंतर्गत लगाए जाने वाले रोजग़ार मेलों में अधिक से अधिक भाग लें, साथ ही स्वरोजग़ार शुरू करने के लिए राज्य सरकार की चलाईं जा रही अलग-अलग भलाई स्कीमों का लाभ उठाएं

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल