जिला प्रशासन ने सेहत विभाग की टीमें को कोविड-19 टेस्ट रखने के दिए निर्देश

जालंधर (विशाल ) विश्व भर में कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर को ध्यान में रखते अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर (जनरल) जसबीर सिंह ने सेहत विभाग की टीमें को निर्देश जारी किए हैं कि कोविड-19 के कम हो रहे मामलों के चलते वह बेफिक्र न हों और जिले में कोविड -19 महामारी को फैलने से रोकनो के लिए सैंपलिंग को जारी रखा जाए। शनिवार काे सेहत विभाग के अधिकारियों की मीटिंग की अध्यक्षता करते हुए अतिरिक्त डिप्टी कमिशनर ने निर्देश दिया है कि सैंपल लेने की प्रक्रिया को पूरी संजीदगी से लगातार जारी रखा जाए ताकि अधिक से अधिक लोगों की रोज़मर्रा की जांच की जा सके। अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि इसमें कोई शक नहीं है कि प्रदेश में अब कोविड-19 के मामलों की संख्या कम हो रही है, इसलिए हमें इसके प्रति बेफिक्र नहीं होना चाहिए क्योंकि दुनिया के कई मुल्क कोविड-19 वायरस की दूसरी लहर का सामने कर रहे हैं।अतिरिक्त डिप्टी कमिशनर ने जिला निवासियों को आह्वान किया कि वे अधिक से अधिक टेस्ट करवाने के लिए आगे आएं जिससे जिले में कोविड-19 के वायरस को फैलने से रोका जा सके। उन्होंने कहा कि कोविड-19 पॉजिटिव मरीज़ों के संपर्क में आए लोगों की पहचान करने और घरों में एकांतवास किये गए मरीज़ों पर ख़ास ध्यान दिया जाना जरूरी है।उन्होंने कहा कि वायरस को फैलने से रोकने का एक ही रास्ता है जोकि पाजिटिव मरीज़ों को जल्द से जल्द दूसरे अलग करके होम क्वारनटाईन करना है ताकि इस वायरस के फैलने की श्रंख्ला को तोड़ा जा सके। इस दौरान अतिरिक्त डिप्टी कमिशनर ने सैंपल लेने वाली टीमें को आने वाली समस्याएं भी सुनी गई और सबंधित उप मंडल मजिस्ट्रेट को इन टीमों की समस्याओं को जल्द सुलझाने के लिए कहा।अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर ने जिला प्रशासन की कोविड -19 महामारी का प्रभावशाली ढंग के साथ मुकाबला करने की प्रतिबद्धता दोहराई, साथ ही कहा कि प्रशासन इसके मुकाबले के लिए पूरी तरह से तैयार है और इस कार्य में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी। उन्हाेंने कहा कि लोगों के सहयोग के साथ ही कोविड -19 ख़िलाफ़ जंग को जीता जा सकता है। इस मौके पर सिविल सर्जन डा. गुरिंदर कौर चावला, सहायक सिविल सर्जन डा. गुरमीत कौर दुग्गल अादि उपस्थित थे

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल