टस्कर हाथी ने ली एक व्यक्ति की जान, 18 अक्टूबर से था गायब

ऐजाज हुसैन ब्यूरो चीफ उत्तराखंड

रामनगर। उत्तराखंड में मानव वन्यजीव संघर्ष थमने का नाम नहीं ले रहा है। यहां एक टस्कर हाथी ने ग्रामीण को कुचल कर मौत के घाट उतार दिया, इस घटना के बाद क्षेत्र में हड़कंप मचा हुआ है। सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंचे वन कर्मचारियों ने इस घटना की सूचना पुलिस को दी, जहां पर मालधन चौकी प्रभारी जगबीर सिंह ने घटनास्थल पर पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
मिली जानकारी के अनुसार जिम कार्बेट नेशनल पार्क से सटे तराई पश्चिमी वन प्रभाग रामनगर डिवीजन के आमपोखरा वन रेंज के शिवनाथपुर पटरानी गांव के निवासी नैन राम उम्र 50 वर्ष बीते रोज 18 अक्टूबर को घर से बाहर गए थे जिसके बाद वह शाम को घर वापस नहीं लौटे तो परिजनों ने आसपास में उनकी ढूंढ खोज की और लगातार खोजने के बाद आज सुबह उनके घर से करीब ढाई सौ मीटर दूर प्लाट संख्या 34 आरक्षित वन क्षेत्र में उनका शव क्षत-विक्षत अवस्था में पड़ा हुआ मिला। जिसके बाद परिजनों ने इसकी सूचना वन विभाग को दी तथा मौके पर पहुंचे वन क्षेत्राधिकारी विपिन डिमरी ने इस घटना का संज्ञान लेते हुए तुरंत पुलिस एवं उच्च अधिकारियों को इस घटना की सूचना दी।
वन क्षेत्राधिकारी आम पोखरा विपिन डिमरी ने बताया कि संभवत यह घटना हाथी के द्वारा की गई है। वहीं पुलिस ने मृतक नैन राम के शव को कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। जबकि वन विभाग द्वारा इस घटना में मृत नैन राम के परिवार को वन विभाग द्वारा दी जाने वाली सहायता राशि दिए जाने की कार्रवाई की जा रही है। वन क्षेत्राधिकारी श्री डिमरी ने क्षेत्र के ग्रामीणों से अपील करते हुए कहा है कि वह वन क्षेत्र में अकेले ना जाए और अधिकतम सतर्कता बरतें।

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल