रक्षाबंधन के पावन पर्व पर बहनों ने भाई की रक्षा के लिए हेलमेट दिया. हेलमेट मैन अपने अभियान

हेलमेट मैन राघवेंद्र कुमार
गौतम बुध नगर उत्तर प्रदेश.

हेलमेट मैन अपने अभियान में बच्चियों से पुरानी पुस्तक लेकर हेलमेट के साथ राखी दिया.
ताकि सभी बहन प्रति वर्ष की तरह भाई को राखी बांध सकें और उसका भाई सुरक्षित रहे. क्योंकि भारत में प्रति वर्ष सड़क दुर्घटना में डेढ़ लाख लोगों की मौत हो जाती है जिसमें लाखों भाई अपनी बहन से बिछड़ जाते हैं. अपने भाई की सुरक्षा के लिए ग्रामीण क्षेत्र की बच्चियों ने जागरूकता का संदेश दिया. हेलमेट मैन प्रतिवर्ष रक्षाबंधन के पर्व पर बहनों से अपील करते हैं जिनके पास पैसे नहीं है हेलमेट खरीदने के लिए वह अपनी पढ़ी हुई पुरानी पुस्तक देकर हेलमेट ले सकती है निशुल्क.
इस साल हेलमेट मैन ने एक हेलमेट के साथ राखी भी दिया भाई को बांधने के लिए.
और बच्चियों से पुस्तक लेकर जरूरतमंद बच्चों को दे रहे हैं जो पुस्तक के अभाव में आगे पढ़ने में सक्षम नहीं है. इस तरह भविष्य में जो बच्चे इस अभियान का हिस्सा बनेंगे वह जरूर देश को 100% साक्षर करने का योगदान देंगे.
और भारत विश्व में सड़क दुर्घटना के मौत के आंकड़े में पहले स्थान पर है.
इस तरह अभियान चलाकर हेलमेट मैन भारत के सभी राज्यों में लोगों को जागरूकता का संदेश दे रहे हैं. ताकि सड़क दुर्घटना में होने वाली मौत को रोका जा सके.
आज सभी बहनों को हेलमेट मैन यही संदेश दे रहे हैं अपने भाई की रक्षा के लिए हेलमेट उतना ही आवश्यक है जैसे मास्क की जरूरत है करोना वायरस से बचने के लिए.

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल