मायावती का ऐलान- नागरिक संशोधन बिल का विरोध करेगी बसपा, सरकार करे पुनर्विचार

kranti news lucknow , (beauro chief) sanjay azad :- बसपा सुप्रीमो मायावती (BSP Supremo Mayawati) ने कहा कि नागरिक संशोधन बिल संविधान पर हमला है. किसी भी मजहब को मानने वालों पर ये बिल न थोपा जाए. उन्होंने कहा कि धारा 370 से हम सहमत थे इसलिए सरकार के साथ खड़े रहे. लेकिन हम नागरिक संशोधन विधेयक का जमकर विरोध करेंगे.


लखनऊ. बहुजन समाज पार्टी (Bahujan Samaj Party) की मुखिया मायावती (Mayawati) ने गुरुवार को कहा कि नागरिक संशोधन बिल (Citizen Amendment Bill) पर केंद्र सरकार को पुनर्विचार करना चाहिए. उन्होंने कहा कि नागरिक संशोधन बिल जबरदस्ती न थोपा जाए. उन्होंने मांग की कि नागरिक संशोधन बिल को संसद की समिति को भेजा जाए. मायावती ने कहा कि नागरिक संशोधन बिल संविधान पर हमला है. किसी भी मजहब को मानने वालों पर ये बिल न थोपा जाए. उन्होंने कहा कि धारा 370 से हम सहमत थे इसलिए सरकार के साथ खड़े रहे. लेकिन हम नागरिक संशोधन विधेयक का जमकर विरोध करेंगे.
बता दें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की अध्यक्षता में केंद्रीय कैबिनेट ने छह बिलों को मंजूरी दी है.इस कैबिनेट मीटिंग में नागरिकता संशोधन बिल (Citizenship Amendment Bill) को मंजूरी दी गई. सूत्रों ने बताया कि 1955 के नागरिकता अधिनियम को संशोधन करने वाले इस विधेयक को संसद के शीतकालीन सत्र में पेश किया जा सकता है.

Translate »
क्रान्ति न्यूज - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल