जंगल में लकड़ी बीनने गई नाबालिग से दुराचार।

अब एक नाबालिग की अस्मत दो इंसान रूपी हैवानों की भेंट चढ़ी,

मां की तहरीर पर दो के ख़िलाफ़ पोक्सो के तहत मुकदमा दर्ज।

नागल-(सहारनपुर)
जंगल में लकड़ी बीनने गई एक विधवा की नाबालिग दत्तक पुत्री के साथ दो युवकों द्वारा रेप किये जाने का मामला प्रकाश में आया है, पीड़िता की मां की तहरीर पर पुलिस नें पोक्सो समेत संबंधित धाराओं में मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

मामला नागल थाना क्षेत्र के कुराली गांव का है, जहां एक परिवार को गरीबी के साथ-साथ बेबसी का दंश भी उस समय झेलना पड़ा जब गांव के ही दो शोहदों नें उनकी एक नाबालिग पुत्री की अस्मत रौंद डाली। सोमवार दोपहर करीब दो बजे करीब चौदह वर्षीय नाबालिग किशोरी जंगल में लकड़ी बीनने गई थी, जहां उसे अकेली देख गांव के दो युवक जान से मारने की धमकी देते हुए पास में ही स्थित एक खाली पड़े मकान में ले गए तथा उसके साथ दुराचार किया। दोनों युवक लड़की को घटना के बाबत किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी देते हुए मौके से फ़रार हो गए।

घटना के करीब एक घंटे बाद रोती बिलखती किशोरी अपने घर पहुंची तथा अपनी मां को घटना के बारे में बताया।
बताया जाता है कि महिला सोमवार शाम को ही थाने आकर मामला दर्ज कराना चाहती थी, मगर गांव के कुछ लोगों ने गांव में ही मामले को निपटाने की खातिर रोक लिया। काफ़ी समय चली समझौता वार्ता में कोई हल न निकलने पर मंगलवार सुबह पीड़िता की मां थाने पहुंची तथा पुलिस को आपबीती सुनाते हुए गांव के दोनों युवकों को नामजद करते हुए तहरीर दी। पुलिस नें महिला की तहरीर पर दोनों युवकों के खिलाफ 376 डीए एवं बालिका सुरक्षा अधिनियम की धारा 5-6 में मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही शुरू कर दी है।
थानाध्यक्ष सुरेंद्र सिंह नें बताया कि किशोरी को मेडिकल परीक्षण के लिए भेजा गया है, और आरोपियों की तलाश में दो टीम गठित कर उनकी गिरफ़्तारी को दबिशें दी जा रही हैं। जल्द ही आरोपी पुलिस गिरफ़्त में होंगे।

Translate »
क्रान्ति न्यूज लाइव - भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति की मशाल